Subscribe Us

घने कोहरे के कारण डिवाइडर पर चढ़ वाहन हुआ क्षतिग्रस्त, कोई हताहत नहीं

  रिजवान अहमद

 बाराबंकी : राष्ट्रीय राजमार्ग के बीच में और किनारे पर सफेद पट्टी धुंधली हो जाने से कोहरे में हादसों की आशंका बढ़ गई है। घने कोहरे के कारण चालकों को वाहन चलाने में दिक्कत हो रही है। कोहरे के बीच अंदाजे से वाहन चलाने से गति तो धीमी हो ही जाती है, हादसे की भी आशंका बनी रहती है। संबंधित विभागों को ठंड का मौसम शुरू होने से पहले सफेद पट्टी बना देना चाहिए, लेकिन विभाग बजट और नियमों का हवाला देकर लोगों की जान जोखिम में डाल रहे हैं।  

जानकारी के अनुसार एनएचआई की तरफ से सड़कों के बीच में थर्मल प्लास्टिक पेंट से सेंटर लाइन खींची जाती है। जबकि सड़क के दोनों किनारे पर रेज लाइन बनाई जाती है। सेंटर लाइन वाहन चालक के लिए बीच में चलने का संकेत देती है। कोहरे में यह लाइन वाहन चालक के लिए मार्गदर्शक का काम करती है।इसी सफेद पट्टी के सहारे चालक अपने वाहन को चलाता है। वहीं, रेज लाइन से यह संकेत होता है कि लाइन के बाद किनारे वाहन नहीं ले जाना है। इस समय अधिकतर सड़कों की यह लाइनें धुंधली हो गई हैं या मिट गई हैं।  ऐसी हालत में सड़क में जहां पर कट होता है वहां पर हादसे की आशंका अधिक हो जाती है।

यदि किसी सड़क के बीच में डिवाइडर बनाया गया है तो उसके दोनों तरफ से काले-पीले और सफेद पेंट से पुताई होनी चाहिए। ऐसा होने से रात में और धुंध पड़ने पर वाहन चालक को पता चलता रहता है कि सामने डिवाइडर है। वाहन को उससे इधर या उधर नहीं ले जाना है। इस तरह हादसा होने से बचता है।अधिकतर सड़कों में डिवाइडर पर बनाए गए यह संकेतक गायब हैं।मसौली चौराहे पर बने डिवाइडर से गायब है संकेत

बाराबंकी से गोण्डा बहराईच एव नेपाल देश को जोड़ने वाले इस टू लेन राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित प्रमख चौराहो पर फोर लेन का निर्माण कराया गया है तथा बीच मे डिवाइडर बनाया गया है लेकिन सकेंतक न होने के कारण आये दिन बड़े वाहन एव छोटे वाहन डिवाइडर से टकराकर क्षतिग्रस्त हो जाते है।बीते शुक्रवार की रात्रि में मसौली चौराहे पर बने फोर लेन के गोलंबर के डिवाइडर पर बलरामपुर से अलीगढ़ जा रहा ट्रक नम्बर यूपी 82 टी 6182 पर घने कोहरे के कारण चढ़ गया। वाहन क्षतिग्रस्त हो गया लेकिन कोई हताहत नहीं हुआ। इस जगह पर सफेद पट्टी दिख रही है लेकिन इतनी धुंधली हो गई है कि धुंध में वह चालक की कोई मदद नहीं कर सकती।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ