Subscribe Us

तू नया है तो दिखा सुबह नई शाम नई,वर्ना इन आँखों ने देखे हैं नए साल कई : फैज़

असलम आजाद शम्सी,

उच्च विद्यालय हनवारा गोड्ड

 पूरे विश्व के लोग हफ्तों पहले से नव वर्ष के भव्य स्वागत की तैयारियां कर रहे हैं, नए साल के स्वागत की तैयारी ना सिर्फ भारत ब्लकि पूरी दुनिया के लोग जुटे हैं. हर व्यक्ति अपने अपने तरीके से उस मध्यरात्रि का गवाह बन कर जीवन के उस पल को यादगार बनाने में जुटा है।अब बस विश्व भर के लोगों को उस पल का इंतजार है जब पूरा विश्व 2022 की भूली बिसरी यादों को पीछे छोड़ 2023 में प्रवेश करेंगे और एक दूसरे के साथ नव वर्ष की खुशियां मनाएंगे. हम सभी नए साल को अपने भविष्य के लिए, आने वाले समय के लिए शुभ मानते हैं और अपने जीवन को हर्ष और उल्लास से परिपूर्ण करने के लिए अपने ढंग से नए साल के स्वागत में जुट जाते हैं। पर क्या केवल साल बदल जाने से हमारे जीवन में बदलाव की बयार आती है?क्या दिन, महीने और साल बदलने से हम खुश रहने लग जाते हैं? क्या हमारी जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार हो पाता है? क्या कैलेंडर के बदलने से हम बदल जाते हैं? क्या हम नये वर्ष में कुछ नया कर पाते हैं?क्या हम अपने लक्ष्य को लेकर कृतसंकल्प हो पाते हैं? सिवाय घर के कैलेंडर बदलने के? सिवाय नव वर्ष के भव्य समारोह, उल्लास, जश्न, पार्टी, नाच गाने और गेट टुगेदर करने के?

हम सब नए साल की खुशियाँ मानते हैं और इस बात की आशा करते हैं कि आने वाला वर्ष हमारे लिए अनेकानेक खुशियां, कामयाबी, सफलता, अच्छा स्वास्थ्य और अच्छे परिणाम लेकर आए।नया साल एक नई शुरुआत को दर्शाता है हमें जीवन में निरंतर आगे बढ़ने की सीख और प्रेरणा प्रदान करता है। पुराने साल के अपने कर्म, सफलता, असफलता, सुख, दुःख , निराशा, आशा कठिनाई और अच्छे बुरे परिणाम जो हमारे जीवन का हिस्सा बना उन सब से प्रेरणा प्राप्त कर हमें नए जोश, नई उम्मीद और हौसले के साथ आगे बढ़ना चाहिए।जिस प्रकार हम पुराने साल के समापन पर दुःखी नहीं होते अपितु हम नये साल के जश्न और उसे बेहतर बनाने में तन मन धन से जुट जाते हैं उसी प्रकार हमें जीवन के बीते लम्हों, कठिनाइयों, असफलताओं और पराजय को पीछे छोड़ते हुए नए और खूबसूरत कल के निर्माण में जुट जाना चाहिए। सकारात्मक ऊर्जा के साथ सकारात्मक दिशा में किया जाने वाला हमारा प्रयास हमारे जीवन में सफलता अवश्य लेकर आएगी। नए साल पर हमें एक नई ऊर्जा के साथ नया संकल्प लेना चाहिए और हर संकल्प पर खरा उतरने हेतु दृढ़ निश्चय और इच्छा शक्ति के साथ सकारात्मक पहल भी करनी चाहिए और हर संकल्प को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित होते रहना चाहिए। हमें किसी भी परिस्थिति में अपने द्वारा लिए गए संकल्प को भूलना नहीं चाहिय अन्यथा उस पर हमारा कार्य शून्य हो जाता है। हम ऐसे ही कुछ संकल्प आपको बता रहे हैं जिसे पूरा कर आप अपने और अपनों के जीवन और दिनचर्या में बदलाव ला सकते हैं जिससे आपके जीवन में सुख, समृद्धि, शांति, स्थिरता और कामयाबी अवश्य आएगी,लक्ष्य के साथ आगे बढ़ें हर व्यक्ति का जीवन लक्ष्य पर आधारित होना चाहिए, बिना लक्ष्य के हमारा जीवन व्यर्थ है।छात्र - छात्राएं हों, नौकरी पेशे वाले हों, किसान हों, दैनिक वेतन भोगी हों अथवा व्यापारी हों, हर किसी को एक निश्चित लक्ष्य के साथ आगे बढ़ना चाहिए। 

 असलम आजाद शम्सी

उच्च विद्यालय हनवारा

         गोड्डा

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ