Subscribe Us

घटिया सामग्री से हो रहे इंटरलॉकिंग निर्माण में ग्रामीणों का प्रदर्शन

  रिजवान अहमद

 बाराबंकी। ग्राम पंचायत प्यारेपुर में 6 लाख लगत से  इंटरलाकिंग सड़क निर्माण में जमकर पीली ईंट का प्रयोग किया जा रहा है जिसको लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। ग्रामीणों के विरोध के बाद भी घटिया सामग्री का ही प्रयोग किया जा रहा है। जिसको लेकर  खण्ड विकास अधिकारी  से शिकायत करते हुए बताया कि इस महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्राम रोजगार योजना के तहत 3/ 145 मीटर इंटरलाकिंग कार्य मे इसका निर्माण करा रहे सेक्रेटरी प्रधान सतेंद्र वर्मा भ्रस्टाचार के आकंड में डूबे है ना मानक का पता है न सामग्री की गुडवत्ता सब कुछ ताख पर रख कर खुलेआम कहा जा रहा है कि कोई अकेले हमारी मर्जी से गलत काम नही हो रहा है। जो करना हो कर लो इस संबंध में ग्रामीणों को भरोषा देते हुए बीडीओ रामनगर अमित त्रिपाठी ने कहा है कि पीला ईंटें हटाने और गुणवत्तापरक कार्य कराने के निर्देश दिए जा चुके है सेक्रेटरी ने पहले कहा कि वहां पर पीले ईट का  कोई निर्माण नहीं हो रहा और जब फोन पर दोबारा वार्ता की गई  तो उन्होंने बताया अगर मानक के विपरीत निर्माण पाया गया तो भुकतान रोक दिया जाएगा आखिर भुगतान ही क्यों रोका जाए इस मामले पर प्रधान  ठेकेदार वा सम्मालित सरकारी अधिकारियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही क्यों नही की जा रही है। क्या उक्त निर्माण कार्य की शिकायत के बाद भी इंटरलॉकिंग घटिया सामग्री में कार्य किया जा रहा है शायद उच्च अधिकारियों और प्रदेश के मुखिया योगी सरकार का खौफ भी समाप्त हो चुका है तो इस मामले को लेकर  राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के मंडल प्रभारी अंबुज वर्मा ने मोर्चा खोल दिया है किसान नेता ने कहा घटिया कार्य को लेकर हम सभी किसान जिलाधिकारी को ज्ञापन देंगे ज्ञापन देने के बाद ही उसे कार्यवाही नहीं हुई तो सैकड़ो किसानों के साथ ब्लॉक ब्लॉक घेराव करूंगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ