Subscribe Us

उन्नाव : जिलाधिकारी कार्यलय में बड़ी धूम धाम से मनाई गई महात्मा गाॅधी व लाल बहादुर शास्त्री की जयन्ती

  मोहम्मद इमरान खान 

  उन्नाव। राष्ट्रपिता महात्मा गाॅधी व पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयन्ती के पावन अवसर पर जनपद के सभी सरकारी कार्यालयों, शासकीय भवनों, शैक्षणिक संस्थानों आदि जगहों पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किये गये। इस दौरान शैक्षणिक संस्थानों में गाॅधी जीवन दर्शन पर विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की गयी, वहीं सभी ग्रामीण व नगरीय क्षेत्रों की मलिन बस्तियों में अभियान चलाकर साफ सफाई का कार्य किया गया।

कलेक्ट्रेट परिसर में जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे द्वारा स्वच्छता का संदेश देने के उद्देश्य से नव स्थापित प्रकाशयुक्त गाॅधी चश्मे का फीता काट कर उद्घाटन किया गया तथा जनपद के टीबी मरीजों से नियमित सम्पर्क बनाये रखने के उद्देश्य से (बल्क मैसेजिंग सर्विस) की शुरूआत की गयी। इस मौके पर एक साथ 3113 टीबी मरीजों को मैसेज भेजकर बताया गया कि दवा का नियमित सेवन करते रहंे अन्यथा बिगड़ी टीबी (एमडीआर) की संभावना हो सकती है। डीएम ने कहा कि प्रत्येक 15 दिन में इस सेवा के जरिये मैसेज भेजकर सभी टीबी मरीजों का फालोअप किया जायेगा। इसके उपरान्त कलेक्टेªट में आयोजित गाॅधी जयन्ती समारोह में महात्मा गाॅधी व शास्त्री जी के चित्र पर डीएम सहित अन्य अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा माल्यार्पण व श्रद्धासुमन अर्पित किये गये। इस मौके पर डीएम ने उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को नशीली दवाओं का सेवन न करने सम्बन्धी शपथ दिलाते हुए कहा कि हमारे युवा नशा मुक्त जीवन यापन करे। शपथ के उपरान्त कार्यक्रम में गाॅधी जी के प्रिय भजन ’’वैष्णव जन तो तैने कहिए जी, पीर पराई जाने रे’’ एवं ’’रघुपति राघव राजा राम’’ की मनमोहक रामधुन प्रस्तुत की गयी। तदोपरान्त जिलाधिकारी एवं अन्य अधिकारियों द्वारा गाॅधी जी एवं शास्त्री जी के जीवन मूल्यों पर प्रकाश डाला गया। डीएम ने इस मौके पर कहा कि आज का दिन अत्यन्त महत्वपूर्ण है। इस दिन हमारे देश की दो महान विभूतियों का जन्म हुआ है। इन्हीं की वजह से आज हम गर्व से जीवन जीने का मौका मिला है। इसके लिए हम अपने महापुरूषों के सदैव ऋणी रहेंगे। उन्होने कहा कि अंग्रेजों से आजादी दिलाकर हमारे महापुरूषों ने हमें एक सुन्दर भारत दिया है, हमे मिलकर व अपने दायित्वों का ईमानदारी से निवर्हन कर इसे और भी सुन्दर बनाना है। इस मौके पर एडीएम (वि0/रा0) नरेन्द्र सिंह ने बताया कि समाज के प्रति गाॅधी जी का दृष्टिकोण हर वर्ग के उत्थान का था। वह नशा मुक्त भारत चाहते थे, क्योंकि नशा शरीर को नष्ट करने के साथ-साथ भी अर्थतन्त्र को तोड़ता है एवं सामाजिक स्तर को गिराता है। उन्होने सभी से अपील करते हुए कहा कि सभी लोग अपने आस पास के 2-4 लोगों को नशामुक्त जीवन जीने के लिए प्रेरित करे। इसके अतिरिक्त गाॅधी जयन्ती के अवसर पर जिला महिला चिकित्सालय मे जन्म लेने वाली नवजात बालिकाओं के परिजनों को बेबी केयर किट तथा जिला अस्पताल तथा वृद्धाश्रम में फलों आदि का वितरण किया गया। 

   इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) विकास कुमार, नगर मजिस्टेªट विजेता, डिप्टी कलेक्टर रामदेव निषाद सहित समस्त कलेक्टेªट भवन में स्थित कार्यालयों के अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ