Subscribe Us

हमले में घायल महिला दरोगा की मां की हुई मौत, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

  मोहम्मद इमरान खान

 उन्नाव। शनिवार को विवाद के चलते युवक ने महिला दरोगा बेटी और मां पर चाकू से हमला कर दिया था। इलाज दौरान कानपुर अस्पताल में मंगलवार सुबह महिला दरोगा की जख्मी मां की मौत हो गई। पुलिस ने तीन दिन बाद आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। जुराखनखेड़ा मोहल्ला की रहने वाली विंध्यवासिनी तिवारी के घर उनकी दरोगा बेटी प्रतिभा बाजपेई पथरी का ऑपरेशन करवाने के लिए छुट्टी पर आई हुई थीं। महिला दरोगा के बच्चे उत्कर्ष और बेटी संस्कृति भी मौजूद थे। शनिवार शाम किसी बात को लेकर महिला दरोगा ने पड़ोसी अनुभव शुक्ल को डांट दिया। इसी बात से नाराज होकर अनुभव ने चाकू से महिला दरोगा पर हमला कर जख्मी कर दिया था। बेटी को बचाने आई मां विंध्यवासिनी और उसकी बेटी संस्कृति को भी जख्मी कर दिया था। तीनों घायलों को जिला अस्पताल की इमरजेंसी से हैलट रेफर कर दिया गया था। परिजन हैलट न ले जाकर कानपुर के कल्याणपुर स्थित मर्सी अस्पताल में इलाज करवा रहे थे। इलाज दौरान मंगलवार सुबह मां विंध्यवासिनी की मौत हो गई। मौत को लेकर परिजनों में कोहराम मचा रहा। पुलिस ने मामा ज्ञान प्रकाश अवस्थी की तहरीर पर हत्या के प्रयास का पड़ोसी युवक अनुभव के खिलाफ केस दर्ज किया था। पुलिस ने आरोपित अनुभव शुक्ल को देर रात गिरफ्तार कर लिया है। सीओ सदर आशुतोष कुमार ने बताया कि आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। पहले दर्ज केस को हत्या में तरमीम कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ