Subscribe Us

स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन का विकास होता है : प्रतिभा शुक्ला

  सगीर अमान उल्लाह

  बाराबंकी। राज्यमंत्री महिला कल्याण बाल विकास पुष्टाहार विभाग सरकार द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के कार्य की सराहना की जाती है। जनपद में संचालि ने नगर पालिका टाउनहाल में प्रदर्शनी एवं लाभार्थियों व आंगनबाड़ी कार्यत्रियों के साथ संवाद किया, जिसमें बच्चों का अन्नप्राशन, गर्भवती माताओं की गोदभराई करने के साथ आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के द्वारा लगायी गयी प्रदर्शनी का अवलोकन किया गया। प्रतिभा शुक्ला ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों से संवाद करते हुए अपने उद्बोधन में कहा कि आंगनबाड़ी केन्द्रों पर साफ सफाई बनाये रखे। उन्होंने उपस्थित आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि बच्चों को अच्छा ज्ञान व संस्कार दे तथा आप सभी लोग पोषण वाटिका में सहजन के पौधे लगाये, सहजन का पौध एक औषधीय पौधा है, सहजन के फल का सेवन गर्भवती महिलाओं को अवश्य करना चाहिए, जिससे आप पर्यावरण को संरक्षित करते है। उन्होंने यह भी कहा कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन का विकास होता है। हमें चाहिए कि लडके तथा लड़की को उत्तम चरित्र की शिक्षा अवश्य देनी चाहिए। खेल-खेल में पढ़ाई व आत्मनिर्भरता सिखाये। बच्चों की पोषण की बात आती है तो सरकार द्वारा आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के कार्य की सराहना की जाती है। जनपद में संचालित वन स्टाप सेन्टर को महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनाया गया हैं, इसमें आपकी पूरी मदद की जाती है। सरकार द्वारा चलायी जा रही सुमंगला योजना, विधवा पेंशन, बाल सेवा योजना, सहित विभिन्न योजनाओं का लाभ प्रत्येक लाभार्थियों को अवश्य मिले।

कार्यक्रम के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती राजरानी रावत, एमएलसी अंगद सिंह, पूर्व विधायक शरद अवस्थी, परियोजना निदेशक, जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला प्रोबेशन अधिकारी सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ