Subscribe Us

हॉकी खिलाड़ी ध्यानचंद की 117वीं जयंती पर प्रशिक्षित खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया

   सगीर अमान उल्लाह

 बाराबंकी। हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद की 117वीं जयंती के अवसर पर सोमवार को महात्मा गांधी स्पोर्टस क्लब द्वारा गांधी भवन में प्रशिक्षित खिलाड़ियों को सम्मानित किया गया इस दौरान मेजर ध्यानचन्द के चित्र पर मार्ल्यापण कर उन्हें याद किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सेवा सोसाइटी के अध्यक्ष हाजी मो. उमेर किदवई ने कहा कि खेल हमें राष्ट्रीयता की भावना से प्रेरित करता है। खेल हमें एकता,बंधुत्व और सहिष्णुता का संदेश देता है। महात्मा गांधी स्पोर्टस क्लब हॉकी के मेधा खिलाड़ियों को तैयार कर रही है।समाजसेवी मो जियाउद्दीन अहमद ने कहा कि मेजर ध्यानचंद ने अपनी प्रतिभा और परिश्रम से हॉकी को अमर कर दिया। ध्यानचंद 22 साल तक भारत के लिए खेले और 400 इंटरनेशनल गोल किए। तानाशाह हिटलर से लेकर महान क्रिकेटर सर डॉन ब्रैडमैन तक उनके मुरीद थे। सही मायनों में मेजर ध्यानचन्द भारत के खेलरत्न थे। अध्यक्षता कर रहे हॉकी के राष्ट्रीय खिलाड़ी एवं महात्मा गांधी स्पोटर््स क्लब के अध्यक्ष सलाहउद्दीन किदवई ने कहा कि हॉकी के खेल में ध्यानचंद ने लोकप्रियता का जो कीर्तिमान स्थापित किया, उसके आसपास आज तक दुनिया का कोई खिलाड़ी नहीं पहुँच सका। हॉकी जगत में मेजर ध्यानचंद जैसा खिलाड़ी अब तक नहीं हुआ। गांधीवादी राजनाथ शर्मा ने कहा कि क्रिकेट की लोकप्रियता के आगे हॉकी का इतिहास पन्नों में सिमटकर रह गया है। हॉकी का खोया हुआ सम्मान दिलाने के लिए मेजर ध्यानचंद और के.डी सिंह बाबू जैसे खिलाड़ियों को तैयार करना होगा। जो देश का सम्मान और गौरव दिला सकें। कार्यक्रम का संचालन पाटेश्वरी प्रसाद ने किया। 

   इस मौके पर हॉकी के राष्ट्रीय खिलाड़ी विजय अवस्थी, परवेज अख्तर, चंदन अस्थाना, जेपी पूर्वाेत्तर रेलवे, मो अफज़ाल राजू, धनंजय शर्मा, मुजीब अहमद उत्तर रेलवे, मोहम्मद अयाज अंसारी, निसार अहमद, डॉ विक्रम सिं, अनुराग श्रीवास्तव, दीपक रावत, महफूज अंसारी, इमदाद आलम, मोहम्मद समद, आफताब आलम, अखलद अंसारी, मोहम्मद कैफ, मोहम्मद असिम, अमान अंसारी, मो इब्राहिम, मो एहतिशाम,  सोमनाथ पांडेय आदि खिलाड़ी उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ