Subscribe Us

बाराबंकी : सीबीआई ने जिले में एक रिटायर्ड कानूनगो सहित 2 लोगों के घरों पर मारा छापा

   सगीर अमान उल्लाह

बाराबंकी। मोहल्ला लखपेड़ा बाग व दयानंद नगर में एक रिटायर्ड कानूनगो सहित 2 लोगों के घरों पर छापा डाला। सीबीआई को शत्रु संपत्ति में गड़बड़ी की आशंका थी जेसा की मालूम हुआ है कि सीबीआई के हाथ ऐसे कोई दस्तावेज नहीं लगे जिससे उनकी आशंका सच साबित हो पाती। सीबीआई के अफसरों ने लगभग 2 घंटे से अधिक समय तक इन घरों में दस्तावेज खंगाले।

सूत्रों के मुताबिक थाना सतरिख क्षेत्र के ग्राम भानमऊ में शत्रु संपत्ति स्थित है। जिसमें से विनय श्रीवास्तव ने .390 एयर भूमि 2 वर्षों के लिए किराए पर ली थी। इसी संपत्ति के बाबत सीबीआई ने विनय श्रीवास्तव और रुद्रेश पांडे के आवास पर गुरुवार को छापा मारा। नगर कोतवाली क्षेत्र के लखपेड़ाबाग के बाल विहार कॉलोनी निवासी विनय श्रीवास्तव के पिता रमेश श्रीवास्तव सेवानिवृत्त कानूनगो हैं। सीबीआई टीम के पहुंचते ही पूरे घर में हड़कंप मच गया।

उस समय परिवार के सभी सदस्य घर पर ही थे। सीबीआई टीम में 5 सदस्य थे। जिन्होंने पहुंचते ही परिवार के सभी सदस्यों के मोबाइल फोन रखवा लिए। इसके बाद उन्होंने भानमऊ वाली शत्रु संपत्ति के विषय में पूछताछ की। घर की सघन तलाशी लेकर तमाम दस्तावेजों को कई घंटे तक खंगाला। 2 घंटे से अधिक छानबीन करने के बाद विनय के घर से सीबीआई की टीम 4 दस्तावेज साथ ले गई जिनमें जमीन का एग्रीमेंट और डीड खत्म करने का प्रपत्र भी शामिल है विनय श्रीवास्तव का ने बताया कि उन्होंने 2 साल पहले शत्रु संपत्ति लीज पर ली थी जिसका उन्होंने पौने ₹4000 प्रति वर्ष के हिसाब से 2 साल का किराया भी अदा कर दिया था। 6 महीने पहले उनकी डेट खत्म हो गई है। सीबीआई की टीम ने दयानंद नगर में रहने वाले अधिवक्ता रुद्रेश पांडे के घर पर भी दबिश दी। रूद्रेश पांडे ने भी भान मऊ में शत्रु संपत्ति लीज पर ली थी।

प्रशासनिक सूत्रों के मुताबिक शत्रु संपत्ति कस्टोडियन द्वारा एफआईआर दर्ज कराई गई है की लीज पर जमीन लेने वालों ने शत्रु संपत्ति की जमीनें बेच डाली हैं। जिसके आधार पर सीबीआई जांच कर रही है अपर जिला अधिकारी राकेश सिंह ने बताया कि सीबीआई का छापा पहले से पड़ना सुनिश्चित था,लेकिन कहां पड़ रहा है इस विषय में जिला प्रशासन को कोई जानकारी नहीं है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ