Subscribe Us

लखनऊ : जाम के झ़ाम से जूझता आलमबाग! जिम्मेदार कौन?

    रिपोर्ट शमशाद अली

   लखनऊ। राजधानी में आम जनता को रोड जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए कमिश्नरेट पुलिस एवं नगर निगम द्वारा जहां हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं वही शहर के व्यस्ततम बाजार आलमबाग में अवैध अतिक्रमण के चलते रोड जाम की समस्या आम बात है।

    कहीं आलमबाग पुलिस की सरपरस्ती में अवैध ढंग से रोड पर मोटरसाइकिल स्टैंड का संचालन किया जा रहा है तो कहीं सुविधा शुल्क लेकर रोड के फुटपाथों पर अतिक्रमण कराया जा रहा है। यदि विश्वास नहीं हो रहा हो तो सुबह के वक्त चले आइए आलमबाग सब्जी मंडी और देखिए जाम का आलम। एक तरफ रोड पर सब्जी वाले दुकान लगाये मिलेंगे तो दूसरी तरफ अवैध मोटरसाइकिल स्टैंड का अतिक्रमण दिखाई देगा।

     कभी-कभी भोपू लिए एल डी चौकी इंचार्ज दिख जाएंगे जो सब्जी वालों को डांटते डपटते नजर आएंगे। किंतु अतिक्रमण नहीं हटेगा। क्यों हटे भाई अतिक्रमण आक्रमण हट जायेगा तो चौकी इंचार्ज साहब की ऊपरी कमाई कहां से आएगी। रही बात नगर निगम जोन 5 की तो यहां के भी जिम्मेदार अधिकारी कर्मचारी चोर के मौसेरे भाई बने हुए हैं। क्योंकि पुलिस के साथ-साथ वह भी अतिक्रमणकारियों से खोन्ची मारते हैं। 

    यह तो जिम्मेदार साहब लोगों का हाल है वही रोड को जाम करने में सब्जी खरीदने वाले  लोग भी पीछे नहीं हैं। सब्जी खरीदने वाले लोगो अपने वाहनों को बेतरतीब ढंग से खड़ी कर रोड जाम को चार चांद लगा देते हैं। 

    वहीं बगल में बड़ी सी अंडर ग्राउंड पार्किंग है जहां लोग जाना तक मुनासिब नहीं समझते हैं। जबकि यह पार्किंग दुकानदारों खरीददारों के लिए ही बनाई गई है। रोड जाम के चलते आए दिन होती दुर्घटनाएँ किंतु स्थानीय पुलिस को इस बात से कोई लेना देना नहीं है। उसके लिए तो यही बात फिट होती है 'बाप बड़ा ना भैया सबसे बड़ा रुपइया'। 

   कुल मिलाकर आलमबाग की सब्जी मंडी पुलिस और नगर निगम के लिए कामधेनु बनी हुई है और आम जनता रोड जाम की समस्या से बेहाल है। सूत्रों की माने तो थाने के संरक्षण में सजती है सब्जी मंडी और एलडी चौकी के पुलिसकर्मी करते हैं पहरेदारी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ