Subscribe Us

दशमोत्तर छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजनान्तर्गत डीएम ने की बैठक

छात्र की उपस्थिति 75 प्रतिशत से कम है तो वह छात्रवृत्ति का नहीं होगा पात्र जिलाधिकारी संजीव रंजन

असदुल्लाह सिद्दीकी

सिद्धार्थनगर। जिले के जिलाधिकारी संजीव रंजन की अध्यक्षता एवं मुख्य विकास अधिकारी पुलकित गर्ग की उपस्थिति में दशमोत्तर छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति के संबध में बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी संजीव रंजन ने बताया कि दशमोत्तर छात्रवृत्ति एवं शुल्क प्रतिपूर्ति योजनान्तर्गत नियमावली के अनुसार छात्र/छात्राओं को छात्रवृत्ति प्राप्त करने हेतु वायोमैट्रिक अटेन्डेन्स 75 प्रतिशत अनिवार्य है यदि छात्र की उपस्थिति 75 प्रतिशत से कम है तो वह छात्रवृत्ति का पात्र नही होगा। जिलाधिकारी संजीव रंजन ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को छात्रवृत्ति योजनान्तर्गत शासन द्वारा जारी समय सारणी का समयान्तर्गत क्रियान्वयन एवं प्रचार-प्रसार कराने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने उपस्थित प्राधानाचार्यो को निर्देश देते हुए कहा कि छात्रवृत्ति डाटा को फारवर्ड करते समय छात्र/छात्रा के आय प्रमाण-पत्र, क्रमांक, जाति प्रमाण-पत्र क्रमांक तथा अन्य अभिलेखो का परीक्षण कर ले। जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश देते हुए कहा कि विश्वविद्यालय एवं एफिलियेटिंग एजेन्सी के द्वारा संस्था द्वारा भरे गये मास्टर डाटा, पाठ्यक्रमों का प्रकार, सीटो की संख्या, सक्षम स्तर से निर्धारित शुल्क वास्तविक छात्रों की संख्या आदि का समयान्तर्गत सत्यापन कराना सुनिश्चित करे। जिलाधिकारी ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिया कि कोई भी पात्र छात्र/छात्रा छात्रवृत्ति से बंचित न रहे। बैठक में जिला विद्यालय निरीक्षक अवधेश नारायण मौर्य, जिला समाज कल्याण अधिकारी डा0 राहुल गुप्ता, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी तन्मय, संबधित स्कूलो के प्रधानाचार्य आदि उपस्थित थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ