Subscribe Us

ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप

   सत्य स्वरूप

बाराबंकी : योगी सरकार में दबंग और भ्रष्टाचारियों का बोलबाला कहने को तो योगी सरकार बड़े-बड़े दावे करती है भ्रष्टाचार मुक्त की बातें करती है लेकिन यह दावे सिर्फ हवा हवाई साबित हो रहे हैं आपको बताते चलें कि बाराबंकी जनपद के ब्लॉक बनीकोडर की ग्राम पंचायत खुशेहटी में ग्राम पंचायत सदस्यों व सैकड़ों ग्रामीणों  ने ग्राम प्रधान और  ग्राम विकास अधिकारी पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि ग्राम पंचायत खुशेहटी के ग्राम विकास अधिकारी श्रीकांत वर्मा बेहद अभद्र व्यवहार करते हैं और ग्राम पंचायत सदस्यों व ग्रामीणों के द्वारा कोई जानकारी मांगने पर ब्लॉक से अपमानजनक तरीके से बाहर भगा देते हैं इतना ही नहीं ग्राम पंचायत सदस्यों ने यह भी आरोप लगाया कि पूर्व प्रधान और वर्तमान प्रधान की सांठगांठ से ग्राम पंचायत निधि मैं जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है  पूर्व में दिनांक 27/ 11/2021 को उक्त सचिव द्वारा ग्राम पंचायत समितियों का गठन किया गया था जिसमें उक्त सचिव द्वारा धोखाधड़ी करके एक समिति प्रशासनिक समिति का गठन ही नहीं किया गया उसके उपरांत जब हम लोगों आई0जी0आर0एस0 के माध्यम से ऑनलाइन शिकायत की तो झूठा जवाब देकर शिकायत निस्तारित कर दिया ग्रामीणों ने यह भी कहा कि ग्राम पंचायत की कोई भी जानकारी मांगने पर वह कहते हैं कि मैं तुम्हें किसी भी चीज की जानकारी नहीं दूंगा जहां मर्जी आए शिकायत कर लो मेरी पहुंच बहुत ऊपर तक है मेरा कुछ नहीं होने वाला जो मन में आएगा वही करूंगा गठन से आज तक किसी भी बैठक में किसी भी सदस्य को नहीं बुलाया गया न ही ग्राम पंचायत संबंधी कोई जानकारी दी गई ग्राम सचिव द्वारा ग्राम पंचायत सदस्यों को बताया गया की ग्राम पंचायत के सदस्यों का कोई मतलब नहीं होता है यह फर्जी पद होता है जिसकी शिकायत ग्राम पंचायत सदस्यों व ग्रामीणों ने जिला अधिकारी बाराबंकी एवं मुख्य विकास अधिकारी को भेजकर कार्रवाई की मांग की है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ