Subscribe Us

सम्पत्ति के लिए भाई बना भाई का दुश्मन

  अनवर अशरफ 

  कानपुर। आईरा प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस मे पटकापुर थाना फीलखाना  क्षेत्र के पीड़ित बुजुर्ग मुमताज अली ने सपरिवार पत्रकारों को बताया कि उनके भाई फरहद अली निवासी 19/226 पटका पुर ने उनके पैतृक मकान में कब्जा कर लिया है. विरोध करने पर फरहाद अली की बेटी मीना, मेराज व भतीजे निजाम व उनके परिवार ने धमकी, मारपीट कर घर से बाहर निकाल रहे हैं. पुलिस मे शिकायत करने पर मीना मेराज ने फर्जी मुकदमा दर्ज कराने के बाद भी मीना, माँ सिकंदरि बेगम और उसके बहनोई जावेद पीड़ित मुमताज अली के पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी देते हुए पैतृक संपत्ति छोड़ने के लिए दबाव बना रहे हैं.

 पीड़ित मुमताज अली व उनकी पत्नी आसिया बानो ने बताया कि करीब 10 वर्ष पूर्व वह रोजगार के लिए सफ़ीपुर उन्नाव में रहने चले गए थे जब वह कुछ दिन पहले पटका पुर स्थित अपने घर पर पुनः रहने के लिए आए तो उनके भाई फरहाद अली, भतीजी मीना व भतीजे ने उनके हिस्से में अपना सामान रख कर कब्जा कर रखा था, हटाने की बात पर झगड़े पर उतारू हो गए. पुलिस मे शिकायत करने पर मीना ने पुलिस व मीडिया को गुमराह कर उल्टा मुक़दमा दर्ज करा कर उन्हें प्रताड़ित कर मकान खाली करने प्रयास कर रहे हैं. मुमताज अली के अन्य भाई निसार अली के पुत्र एहतिशाम ने जानकारी दी कि उपरोक्त संपति के छह अन्य हिस्सेदार भी है परंतु उनके चाचा फरहाद व उनके परिवार वाले उक्त संपत्ति पर कब्जे की नियत रखते हैं.

सभी पीड़ित ने मीडिया के माध्यम से वरिष्ट अधिकारियों से निष्पक्ष जांच कर न्याय देने की मांग कर रहे हैं.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ