Subscribe Us

सूरज की अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाएगा एएमए हर्बल का वेजिटल सन स्क्रीन लोशन


●  वेजिटल सन स्क्रीन लोशन पूरी तरह से हर्बल उत्पादों से बना है

●   वेजिटल सन स्क्रीन लोशन त्वचा को अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाने के साथ साथ एंटी एजिंग का भी करता है काम

 सत्य स्वरूप संवाददाता

लखनऊ।  एएमए हर्बल कंपनी ने इंडिया के मौसम के हिसाब से वेजिटल सन स्क्रीन लोशन को लांच किया। ये वेजिटल सन स्क्रीन लोशन पूरी तरह से हानिकारक केमिकल से फ्री है। ये न केवल आपकी त्वचा को सूरज की अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाता है बल्कि त्वचा की नमी लॉक करके उसे पोषण भी देता है। जिससे आपकी स्किन तेज धूप में भी हाईड्रेट कर सके। वेजिटल सन स्क्रीन लोशन 100 ग्राम के पैक में उपलब्ध है।

  एएमए हर्बल वेजीटल सनस्क्रीन लोशन आंवला, एलोवेरा, ग्रीन टी, केसर, और पीपरामूल आदि प्राकृतिक एक्सट्रैक्ट्स को मिलाकर बनाया गया है। ये कोलेजन का निर्माण करती है और त्वचा को अल्ट्रावायलेट-बी किरण से बचाती है। ये त्वचा को टेनिंग के साथ साथ एजिंग से भी बचाती है। ये 100 फीसद आर्गेनिक है और इसमें पैराबेन और सिंथेटिक कलर का उपयोग नहीं किया गया है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट बायो एसपीएफ 50 का मिश्रण है। ये त्वचा को धूप से होने वाले पिगमेंटेशन से बचाता है साथ ही सूरज की किरणों से होने वाली एलर्जी से भी बचाता है।

   एएमए हर्बल के सह संस्थापक डॉ यावर अली शाह ने कहा कि वेजिटल सन स्क्रीन लोशन पूरी तरह से हर्बल एक्ट्रेक्ट से बना है ये पैराबेन्स और पीएबीए फ्री है जो कि स्किन एलर्जी नहीं होने देता है। यहां तक कि इससे त्वचा कैंसर होने का भी डर रहता है। साथ ही इनमें एंटीऑक्सीडेंट फार्मूला भी है जो त्वचा को रेडिकल्स से बचाता है, धूप, प्रदूषण से भी बचाता है। साथ ही एंटीएजिंग का भी काम करता है।

  त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ अलीज़ा जैदी ने बताया कि अल्ट्रावायलेट किरणें त्वचा को काफी नुकसान पहुंचाती हैं। गर्मियों के दिनों में बिना किसी सन स्क्रीन लोशन के धूप में जाने से सन बर्न, टेनिंग, पिगमेंटेशन यहां तक कि कई तरह की स्किन एलर्जी भी हो जाती है। एएमए हर्बल का वेजिटल सन स्क्रीन लोशन पूरी तरह से हर्बल प्रोडक्ट से बनाया गया है। इसमें एंटी एजिंग, सन प्रोटेक्शन और एक्ने से बचने के लिए ऐलोवेरा, कैमेलिया, ग्रीन टी, केसर, आंवला, तुरई, पिपली आदि के एक्सट्रेक्ट हैं।

यूवीए और यूवीबी प्रोटेक्शन

डॉ अलीज़ा जैदी ने बताया कि यूवीए और यूवीबी रेज में भी काफी फर्क होता है। यूवीबी से सनबर्न होता है, यूवीए स्किन के कोलेजन को प्रभावित करता है जो त्वचा के काफी अंदर तक जाती है। वेजिटल सन स्क्रीन लोशन का स्ट्रोंग एंटी ऑक्सीडेंट फार्मूला कोलेजन सिंथेसिस बढ़ाता है जो त्वचा को प्रोटेक्ट करता है। साथ ही त्वचा को हाईड्रेट भी करता है। वेजिटल सन स्क्रीन लोशन बायो एसपीएफ 30 लोशन है। विशेषज्ञों के अनुसार बायो एसपीएफ 30, 97 प्रतिशत अल्ट्रावायलेट किरणों से बचाता है। जिसका मतलब है ये आपकी त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से 30 गुना ज्यादा प्रोटेक्शन देता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ