Subscribe Us

एशियन ग्रैनिटो इंडिया का 441 करोड़ रुपये का राइट्स इश्यू सब्सक्रिप्शन के लिए खुला

  लखनऊ। देश के सबसे बड़े लक्ज़री सर्फ़ेस और बाथवेयर सॉल्यूशंस ब्रांडों में से एक एशियन ग्रैनिटो इंडिया लिमिटेड (एजीएल) का राइट्स इश्यू अपने शेयरधारकों के लिए सदस्यता के लिए खुला है। इश्यू आज 25 अप्रैल को खुला और 10 मई को बंद होगा। कंपनी राइट्स इश्यू के माध्यम से 441 करोड़ रुपये जुटा रही है। इस राइट्स इश्यू के माध्यम से प्राप्त होनेवाली राशि का जीवीटी टाइल्स, सेनेटरीवेयर और एसपीसी फ्लोरिंग आदि सहित वैल्यू एडेड लक्ज़री सर्फेस और बाथवेयर सेगमेंट में अपने मेगा एक्सपेंशन प्लान्स फंड करने के लिए उपयोग होगा। राइट्स इश्यू के तहत इक्विटी शेयरों को 63 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर पेश किया जाता है, यानी एनएसई पर 22 अप्रैल को 82.9 रुपये प्रति शेयर के समापन शेयर मूल्य पर 24 प्रतिषत की छूट। पात्र शेयरधारकों को आवंटित राइट्स एंटाइटेलमेंट की ट्रेडिंग 25 अप्रैल से 5 मई (ऑनलाइन के लिए) और 10 मई (ऑफलाइन) तक बीएसई और एनएसई पर उपलब्ध है। कंपनी 63 रुपये प्रति इक्विटी शेयर (53 रूपये प्रति इक्विटी शेयर के प्रीमियम सहित) की कीमत पर 10 रुपये के अंकित मूल्य पर नकद के लिए 6,99,93,682 पूरी तरह से भुगतान किए गए इक्विटी शेयरों को जारी करेगी, जो कुल मिलाकर 440.96 करोड़ रुपये है जो 37ः30 के अनुपात में पात्र इक्विटी शेयरधारकों के लिए एक अधिकार आधार (योग्य इक्विटी शेयरधारकों द्वारा धारित प्रत्येक 30 इक्विटी शेयरों के लिए 37 इक्विटी शेयर पूरी तरह से प्रदत्त इक्विटी शेयर)। कंपनी ने राइट्स इश्यू में राइट्स एंटाइटेलमेंट प्राप्त करने के हकदार इक्विटी शेयरधारकों को निर्धारित करने के उद्देश्य से रिकॉर्ड तिथि के रूप में 12 अप्रैल तय की थी। राइट्स अधिकारों के अधिकार के ऑन-मार्केट त्याग की अंतिम तिथि 5 मई है। राइट्स इश्यू की आय का उपयोग मोरबी, गुजरात में जीवीटी टाइल्स, सेनेटरीवेयर और एसपीसी फ्लोरिंग सहित वैल्यू एडेड लक्ज़री सर्फेस और बाथवेयर सेगमेंट में तीन नई अत्याधुनिक विनिर्माण सुविधाओं की स्थापना के लिए, भारत के सबसे बड़े डिस्प्ले सेन्टर्स में से एक की स्थापना, उपरोक्त नई परियोजनाओं की कार्यशील पूंजी आवश्यकताओं के वित्तपोषण के लिए और सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों की पूर्ति के लिए किया जाएगा। प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप के शेयरधारकों ने 28.99 प्रतिषत शेयरहोल्डिंग (यानी उनकी मौजूदा शेयरहोल्डिंग के 100 प्रतिषत तक) की राशि 128 करोड़ रूपये तक की भागीदारी की पुष्टि की है। प्रमोटर और प्रमोटर ग्रुप के शेयरधारकों ने यह भी संकेत दिया है कि यदि इश्यू अंडरसब्सक्राइब होता है, तो वे लागू कानूनों के अधीन, अनसब्सक्राइब किए गए हिस्से के हिस्से या पूरी राशि को सब्सक्राइब करने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं। इश्यू के पूरा होने के बाद, कंपनी के कुल बकाया शेयर 31 मार्च, 2022 तक 5,67,51,634 इक्विटी शेयरों से बढ़कर 12,67,45,316 इक्विटी शेयर हो जाएंगे। पैंटोमैथ कैपिटल एडवाइजर्स प्राइवेट लिमिटेड राइट्स इश्यू का एकमात्र लीड मैनेजर है। एशियन ग्रैनिटो इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, श्री कमलेश पटेल ने टिप्पणी करते हुए कहा, “मोरबी सिरेमिक टाइलों और सेनेटरीवेयर के लिए भारत का केंद्र है और देश के कुल उत्पादन का 80 प्रतिषत से अधिक उत्पादन यहां होता है, जिसमें 1,100 से अधिक विनिर्माण इकाइयां हैं। एजीएल ने गुजरात राज्य के मोरबी क्षेत्र में प्रमुख विस्तार योजनाओं की रूपरेखा तैयार की है, जिसमें रणनीतिक स्थानगत लाभ, कच्चे माल के स्रोतों से निकटता, जनशक्ति की आसान और त्वरित उपलब्धता, देश के कुछ सबसे बड़े बंदरगाहों के साथ निकटता को ध्यान में रखा गया है। प्रस्तावित योजनाओं का व्यावसायीकरण, एजीएल से एक एकीकृत लक्जरी सर्फेस और बाथवेयर सॉल्यूशंस ब्रांड के रूप में अपनी स्थिति को मजबूत करने और मध्यम अवधि में समूह के मार्जिन प्रोफाइल को मजबूत करने की उम्मीद है। कंपनी ने अनुमान लगाया है कि 2023-24 में वाणिज्यिक संचालन के पहले वर्ष में सभी नई परियोजनाओं के लिए कुल कार्यशील पूंजी की आवश्यकता लगभग 80 करोड़ रुपये होगी, जिसके लिए कंपनी राइट्स इश्यू से लगभग 37 करोड़ रुपये का उपयोग करने की योजना बना रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ