Subscribe Us

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मादक पदार्थो की तस्करी करने वाले गिरोह के चार सदस्य गिरफ्तार

    जावेद शाकिब सत्य स्वरूप

    बाराबंकी। रामनगर पुलिस वा स्वाट टीम ने अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले पति पत्नी सहित गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। ये तस्कर भारत से नशीले पदार्थो को ले जाकर नेपाल में बेचते थे। इनके कब्जे से पुलिस ने स्मैक, लाखो की नगदी वा विदेशी मुद्रा भी बरामद की है।

  पुलिस अधीक्षक अनुराग वत्स के आदेशानुसार जनपद में अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अभियान के तहत थाना रामनगर पुलिस व स्वाट/सर्विलांस टीम की संयुक्त टीम को अन्तर्राष्ट्रीय मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त हुई। आज चौकाघाट, रेलवे क्रासिंग ग्राम गनेशपुर थाना रामनगर से चार शातिर मादक पदार्थ तस्कर विजय विक्रम शाह पुत्र रामबहादुर शाह, जगतकुमारी शाह पत्नी विजय विक्रम शाह निवासीगण लेखगाऊ वार्ड सं0 1 जनपद सुर्खेत, नेपाल, अरमान पुत्र हनीफ, तुफैल पुत्र नसीर निवासीगण लैन थाना रामनगर जनपद बाराबंकी को गिरफ्तार किया गया। अभियुक्तगण के कब्जे से 6 मोबाइल फोन, नेपाल सरकार द्वारा जारी दो पहचान पत्र, एक चेक बुक व एक एटीएम कार्ड बैंक ऑफ काठमांडू, एक चेक बुक व एक एटीएम कार्ड नेपाल एसबीआई बैंक, 730 ग्राम स्मैक, 21254 रुपये नेपाली करेंसी, 100 रुपये दिरहम का एक नोट, 4 अदद एटीएम कार्ड व एक आधार कार्ड, एक अदद इलेक्ट्रॉनिक तराजू, एक अदद मोटर साइकिल अपाचे UP 41 AF 7845 व स्मैक बेचने से प्राप्त 7,95,190/-रुपये नकद बरामद किया गया। उक्त सम्बन्ध में थाना रामनगर पर धारा 8/21/29 एनडीपीएस एक्ट पंजीकृत किया गया। घटना से सम्बन्धित वांछित अभियुक्त सद्दाम की गिरफ्तारी हेतु टीमों का गठन कर प्रयास किया जा रहा है।

    पुलिस के अनुसार आरोपियों से पूछताछ करने पर पता चला कि अभियुक्त विजय विक्रम शाह व उसकी पत्नी जगत कुमारी शाह पूर्व में बाराबंकी के निवासी अभियुक्त अरमान, तुफैल व सद्दाम से मादक पदार्थ खरीदकर नेपाल ले जाकर सप्लाई करते थे । नेपाल के बागमती जेल में बन्द बाराबंकी निवासी मादक पदार्थ तस्कर शब्बीर व कमल शाही(नेपाल) द्वारा जेल से ही गिरफ्तार अभियुक्तगण की आपस में मेल-मिलाप कराकर अवैध मादक पदार्थों की तस्करी कराने का कार्य कराया जा रहा था। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ