Subscribe Us

चैत्र नवरात्र मेला मे प्रशासन, और पंडा समाज मिलकर विंध्यवासिनी मंदिर पर देवी भक्तों को देगा अच्छी व्यवस्था

  महेंद्र पांडे सत्य स्वरूप

   मिर्जापुर। विंध्यवासिनी मंदिर पर 1953 से देश के कोने कोने से आने वाले देवी भक्तों को सुगम और अच्छी व्यवस्था देने का काम श्री विंध्य पंडा समाज द्वारा किया जाता है! पहले विंध्यवासिनी मंदिर पर संपूर्ण व्यवस्था विंध्य धाम के तीर्थ पुरोहित समाज के द्वारा किया जाता रहा है, भीड़ बढ़ने के साथ समाज द्वारा व्यवस्था सुचारू रूप से चले इस मकसद से एक उप संस्था विंध्य विकास परिषद का निर्माण हुआ ,जिसके अध्यक्ष जिला अधिकारी और प्रशासनिक अधिकारी के साथ परिषद में पंडा समाज के लोग सदस्य के रूप में भी शामिल रहे। उसी समय से प्रशासन और पंडा समाज आपसी तालमेल से विंध्यवासिनी मंदिर पर बेहतर सुविधा देने के मकसद से काम कर रहा है। चैत्र नवरात्र मेला 1 अप्रैल मध्य रात्रि से प्रारंभ होगा, नवरात्र मेला को लेकर प्रशासन जहां तैयारी में जुटा है, वही श्री विंध्य पंडा समाज के पदाधिकारी सदस्यगण आप में रायशुमारी करके पूर्व की तरह इस चैत्र नवरात्र में प्रशासन का सहयोग करने का निर्णय लिया गया। पंडा समाज में अपने सभी सदस्यों को जो पंजीकृत है, पुरोहिती करते समय समाज द्वारा निर्धारित परिधान (ड्रेस कोड) और अपना परिचय पत्र गले में पहनकर, विंध्यवासिनी मंदिर परिसर में अपने तीर्थ यात्रियों के धार्मिक अनुष्ठान पूजन को करा सकेंगे, ऐसा निर्णय श्री विंध्य पंडा समाज के आमसभा में लिया गया।

                  भानु पाठक, मंत्री श्री विंध्य पंडा समाज

1 श्री विंध्य पंडा समाज के अध्यक्ष पंकज द्विवेदी ने कहा कि, देवी भक्तों को किसी भी तरह की असुविधा ना हो, यह जिम्मेदारी पंडा समाज के हर एक सदस्यों की जिम्मेदारी है! चित्र नवरात्र मेला 10 दिवसीय है, हर दिन लाखों तीर्थयात्री दर्शन पूजन को आएंगे, प्रशासन और पुलिस प्रशासन के साथ आपसी सामंजस्य बनाकर देवी भक्तों को सुगम और सरल व्यवस्था प्रदान हर स्थिति में करना है।

                 पंकज द्विवेदी अध्यक्ष श्री विंध्य पंडा समाज

2 श्री विंध्य पंडा समाज के मंत्री भानु पाठक ने , पंडा समाज के सभी सदस्यों से आग्रह पूर्वक कहां की अपनी पहचान निर्धारित परिधान है, (ड्रेस कोड) और परिचय पत्र, विंध्यवासिनी मंदिर पर समाज के नियमावली के तहत दर्शन पूजन अनुष्ठान कराने का कार्य करना है! सुविधा अनुसार पंजीकृत तीर्थ पुरोहित सहायक को साथ रखने को कहा है, समाज के द्वारा सहायक पुरोहित को भी परिचय पत्र उपलब्ध कराया जाएगा! और श्री पाठक ने कहां की प्रशासन के हर जायज व्यवस्था में मदद करने की जरूरत है।

3 श्री विंध्य पंडा समाज के पदाधिकारियों और सदस्यों द्वारा प्रदेश की योगी सरकार को धन्यवाद ज्ञापित किया! समाज के पदाधिकारी और सदस्यों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आग्रह किया की विंध्य धाम के तीर्थ पुरोहितों के द्वारा व्यवस्था में सहयोगात्मक दृष्टिकोण को देखते हुए समाज के मान सम्मान का परंपराओं के अनुसार स्थापित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ