Subscribe Us

डाक विभाग द्वारा कराई गई इस प्रतियोगिता में नन्हें मुन्ने बच्चों ने जीते हजारो के इनाम

   सत्य स्वरूप संवाददाता

 वाराणसी। भारतीय डाक विभाग द्वारा 'यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन अंतर्राष्ट्रीय पत्र लेखन प्रतियोगिता-2022' का आयोजन 13 मार्च को किया गया। इस प्रतियोगिता में 9 से 15 साल तक के बच्चों ने देश-दुनिया के प्रभावशाली व्यक्तियों को पत्र लिखकर यह स्पष्ट किया कि उन्हें जलवायु संकट पर क्यों और कैसे कार्यवाही करनी चाहिए। संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव, भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी, पर्यावरण और वन मंत्री सहित तमाम प्रभावशाली शख्सियतों को पत्र के माध्यम से बच्चों ने अपने मन की बात लिखी। वाराणसी परिक्षेत्र में विभिन्न स्कूलों के 170 बच्चों ने इसमें भाग लिया। उक्त जानकारी वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने दी।

वाराणसी परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि इस प्रतियोगिता के माध्यम से डाक विभाग युवाओं में पत्र लेखन की रूचि पैदा करने और सामान्य ज्ञान सहित पूरे विश्व में जलवायु संकट के विषय में जागरूकता फैलाने तथा उनके विचार व्यक्त करने का एक प्लेटफार्म उपलब्ध करा रहा है। बच्चों ने जलवायु संकट हेतु ग्रीन हाउस गैसों से बढ़ती ग्लोबल वार्मिंग, विकास के नाम पर वनों व पेड़ों की अंधाधुंध कटाई, पारम्परिक ईंधनों कोयला इत्यादि के ज्यादा प्रयोग, बढ़ते प्रदूषण, ई-कचरा, अपशिष्टों का समुचित निस्तारण न करना, प्लास्टिक की बढ़ती मात्रा, पारिस्थितिकी पारितंत्र में असंतुलन को जिम्मेदार बताते हुए अधिकाधिक वृक्षारोपण, नवीकरण ऊर्जा के ज्यादा प्रयोग, सार्वजनिक परिवहन के साधनों का ज्यादा उपयोग करने, ई-कचरा का सही निस्तारण, वर्षा जल संचयन, सह अस्तित्व और सतत विकास की अवधारणा पर जोर दिया। स्कूली पाठ्यक्रमों, नुक्कड़ नाटकों, फिल्मों और सोशल मीडिया के माध्यम से इस बारे में लोगों को जागरूक करने हेतु भी बच्चों ने पत्र में लिखा।

पोस्टमास्टर जनरल श्री कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि अब क्षेत्रीय स्तर से तीन श्रेष्ठ प्रविष्टियों को चयनित करके परिमंडल स्तर पर भेजा जाएगा। परिमंडल स्तर पर पूरे प्रदेश से श्रेष्ठ तीन प्रतिभागियों को क्रमशः ₹ 25,000, ₹10,000 व ₹ 5,000 का प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार प्रमाण पत्र के साथ दिया जायेगा। वहाँ से श्रेष्ठ तीन प्रविष्ठियों को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मिलित करने हेतु डाक निदेशालय, नई दिल्ली भेजा जायेगा। राष्ट्रीय स्तर पर श्रेष्ठ तीन प्रतिभागियों को क्रमशः ₹ 50,000, ₹ 25,000 व ₹ 10,000 का प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार प्रमाण पत्र के साथ दिया जायेगा। राष्ट्रीय स्तर के श्रेष्ठ पत्र लेखन को स्विट्जरलैंड में यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन के पास आधिकारिक प्रविष्टि के रूप में भेजा जायेगा।

वाराणसी प्रधान डाकघर और कैंट प्रधान डाकघर में आयोजित प्रतियोगिता के दौरान प्रवर डाक अधीक्षक राजन, डाक अधीक्षक संजय वर्मा, सीनियर पोस्टमास्टर चंद्रशेखर बरुआ, सहायक अधीक्षक पंकज कुमार, इंद्रजीत मौर्य, पोस्टमास्टर रमा शंकर वर्मा इत्यादि उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ