Subscribe Us

दिल्ली से नकली सोने की चैन लाकर यूपी में बेचने वाले चार लोगों को पुलिस ने दबोचा

 नकली सोने की चैन,फर्जी रसीद,24,400 रुपये व स्वीफ्ट कार बरामद

 वकील खान (सत्य स्वरूप)

सोनभद्र, घोरावल। दिल्ली से नकली सोने की चैन लाकर उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में दुकानदारों को बेचकर उनसे ठगी करने वाले चार सदस्यों को घोरावल पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। इनके पास से पुलिस ने चार नकली सोने की चैन, फ़र्ज़ी रसीद,लगभग 24 हजार रुपये व एक स्विफ्ट कार बरामद की है।

    जयप्रकाश सेठ पुत्र कन्हैयालाल सेठ वार्ड-6 कस्बा घोरावल की जे0पी0 आभूषण व वर्तन की दुकान है। उनकी दुकान पर कुछ अज्ञात व्यक्ति नकली सोने की चैन लेकर आये और असली बताकर उनसे 90 हजार रुपये ले गए। इस ठगी की सूचना उनके द्वारा थाने पर दी गयी, जिसके आधार पर घोरावल पुलिस ने धोखाधड़ी की विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया। घटना कारित करने वाले अपराधियों की गिरफ्तारी व व्हार्टन का खुलासा करने हेतु अपराध शाखा की स्वाट / एसओजी/ सर्विलांस टीम व थाना घोरावल पुलिस की संयुक्त टीमो का गठन किया गया । इस टीम द्वारा कई साक्ष्यों के आधार पर  16 फरवरी की शाम लगभग सवा चार बजे मुख्खा मोड़ घोरावल के पास से घटना में संलिप्त चारो अभियुक्तो उदय प्रताप सिंह पुत्र स्व0 सुभाष चन्द निवासी गरौली थाना औराई जनपद भदोही, इन्द्रमणि उर्फ इन्दू सोनी पुत्र अशोक कुमार निवासी कसेरी बाजार थाना कोतवाली शहर जौनपुर, राम सिंह उर्फ हिमांशु सिंह पुत्र शिवआसरे सिह निवासी ग्राम मानशाहपुर थाना सिकरारा जनपद जौनपुर, अवनीश यादव पुत्र राज बहादुर यादव निवासी अलहरिया थाना बक्शा जनपद जौनपुर को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से  नकली सोने की चैन, फर्जी रसीद, 24,400 रुपये व स्वीफ्ट कार बरामद कर आरोपियों को न्यायालय के सुपुर्द कर दिया गया है।

पुलिस द्वारा पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि हमलोग मिलकर दिल्ली से नकली सोने की चैन लाकर उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में उसे असली सोने की चैन बताकर रसीद के साथ बेच देते है, चैन में 22 कैरेट अंकित रहता है जिस कारण दुकान वाले उसे आसानी से असली समझ कर ले लेते थे।

घटना का खुलासा कर आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में घोरावल प्रभारी निरीक्षक देवतानन्द सिंह, निरीक्षक साजिद सिद्धीकी प्रभारी एसओजी,उ0नि0 सरोजमा सिंह, प्रभारी सर्विला, उ0नि0 अमित त्रिपाठी प्रभारी स्वाट टीम,उ0नि0 देवेन्द्र प्रताप सिंह प्रभारी चौकी,हे0का0 उदय प्रताप यादव ,हे0का0 अतुल सिंह, हे0का0 चन्द्रभान यादव, हे0का0 अरविंन्द सिंह, हे0का0 जगदीश मौर्या, हे0का0 अमर सिंह, हे0का0 शशिप्रताप सिह, का0 हरिकेश यादव, का0 रितेश पटेल,का0 सौरभ राय, का0 अमित सिंह, का0 प्रकाश सिंह, का0 दिलीप कश्यप स्वाट/एसओजी/सर्विलांस टीम का विशेष योगदान रहा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ