Subscribe Us

अपना घर देखे भाजपा, हमारे घर के मामले में भाजपा को नही चिंता करने की जरूरत : अखिलेश यादव


अपर्णा यादव के भाजपा में जाने की अटकलों पर बोले अखिलेश, यह हमारे घर का है मामला, सब कुछ ठीक है

सत्य स्वरूप संवाददाता

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले नेताओं के दल-बदल का दौर जारी है। योगी कैबिनेट के मंत्री स्‍वामी प्रसाद मौर्य, डॉ. धर्म सिंह सैनी और दारा सिंह चौहान समेत भाजपा के कई विधायकों के समाजवादी पार्टी में जाने से हंगामा मचा हुआ है। वहीं, इस बीच सपा सरंक्षक मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव के भाजपा में जाने की अटकलों से सियासी पारा चढ़ गया है। इसको लेकर सपा प्रमुख और यूपी के पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि यह हमारे परिवार का मामला है और सब ठीक है। इसके अलावा अखिलेश यादव ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि उनको हमारे परिवार की ज्यादा चिंता है, लेकिन इसकी कोई जरूरत नहीं है। उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए बड़े-बड़े षडयंत्र और साजिश की जा रही हैं। इससे पहले रविवार को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव  ने अपर्णा यादव को लेकर कहा था कि वह पहले पार्टी के लिये काम करें, फिर कोई उम्मीद करें। साथ ही कहा था कि उनको समाजवादी पार्टी में ही रहना चाहिए।

सपा की कैंट सीट से लड़ा था 2017 का चुनाव

बता दें कि अपर्णा यादव ने 2017 विधानसभा चुनाव में सपा के टिकट पर लखनऊ कैंट से विधानसभा चुनाव लड़ा था, जिसमें उन्‍हें हार मिली थी। अपर्णा को भाजपा की रीता बहुगुणा जोशी ने पटखनी दी थी। वहीं, वह पिछले काफी समय से सोशल मीडिया और अपने इंटरव्‍यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ की तारीफ करती दिख रही हैं। फिलहाल चर्चा है कि वह भाजपा का दामन थाम सकती हैं।

बयानबाजी को लेकर अक्सर चर्चा में रहती है अपर्णा

अपर्णा यादव अपनी बयानबाजी के कारण अक्‍सर चर्चा में रहती हैं। वह सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की दूसरी पत्नी साधना यादव के बेटे प्रतीक की पत्नी है। अपर्णा के पिता का नाम अरविंद सिंह बिष्ट है, जो कि समाजवादी सरकार में सूचना आयुक्त रह चुके हैं, वहीं, उनकी मां लखनऊ नगर निगम में अधिकारी हैं। ब्रिटेन की मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी से इंटरनेशनल रिलेशन एंड पॉलिटिक्स में मास्टर डिग्री रखने वाली अपर्णा शास्त्रीय गायिका भी हैं, जबकि उनकी शादी प्रतीक से साल 2010 में हुई थी। अपर्णा राजनीति में दिलचस्‍पी रखती हैं, तो वहीं प्रतीक लखनऊ में जिम चलाने के साथ रियल स्टेट का कारोबार करते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ