Subscribe Us

एंटी करप्शन टीम ने सहायक लेखाकार को बीस हजार रिश्वत लेते रंगे हाथ दबोचा

पेंशन के 114522 रुपए जारी किए जाने के एवज में मांगी थी 20 हज़ार की रिश्वत

निखिल बाजपेयी

लखनऊ । एंटी करप्शन ऑर्गेनाइजेशन भ्रष्टाचार निवारण संगठन के डीआईजी राजीव मल्होत्रा के द्वारा गठित की गई गोरखपुर इकाई के इंस्पेक्टर चंद्रेश यादव की ट्रैप टीम ने मंगलवार को संतकबीर नगर कोषागार कार्यालय के काउंटर से घूसखोर सहायक लेखाकार अवधेश कुमार मिश्र को 20 हज़ार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया । रिश्वतखोर सहायक लेखाकार अवधेश कुमार मिश्र के खिलाफ खलीलाबाद कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया है । भ्रष्टाचार निवारण संगठन के डीआईजी राजीव मल्होत्रा ने बताया कि ग्राम खाजो धनघटा संतकबीर नगर के रहने वाले राजीव राय की शिकायत पर घूसखोर सहायक लेखाकार अवधेश कुमार मिश्र को गिरफ्तार किया गया है। 

  श्री मल्होत्रा के अनुसार शिकायतकर्ता रजनीश राय के पिता जीत बहादुर राय का 2014 में निधन हो गया था। उनके निधन के बाद पेंशन रजनीश राय की मां इंद्रावती के नाम बनती थी जिसका बढ़ा हुआ एरियर 1 लाख 14 हज़ार 522 रुपए का भुगतान होना था । इंद्रावती की पेंशन के 1 लाख 14 हज़ार 522 रुपए का भुगतान किए जाने की एवज में घूसखोर सहायक लेखाकार अवधेश कुमार मिश्र ने 20 हज़ार रुपए की रिश्वत मांगी थी । रजनीश राय की शिकायत पर ट्रैप टीम गठित की गई और आज घूसखोर सहायक लेखाकार को ट्रैप टीम ने घूस की रकम के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। घूस की रकम के साथ रंगे हाथ पकड़े गए अवधेश कुमार मिश्र के खिलाफ संतकबीर नगर की कोतवाली खलीलाबाद में मुकदमा दर्ज करा दिया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ