Subscribe Us

भाजपा के दिग्गज नेता स्वामी प्रसाद मौर्या ने बेजेपी छोड़ थामा सपा का दामन

 डिप्टी सीएम केशव मौर्या ने स्वामी मौर्या के पार्टी छोड़ने पर किया ट्वीट

जल्दबाजी में फैसला न करने की करी अपील, डिप्टी सीएम ने ट्वीट में कहा बैठकर बात करते हैं 

लखनऊ। यूपी में आचार संहिता लागू होने के बाद राजनीतिक हलचल तेज हो गई है। योगी सरकार में श्रम एवं सेवायोजन मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्य मंगलवार को कैबिनेट से इस्तीफा देने के बाद सपा में शामिल हो गए। इसके अलावा, भाजपा विधायक रोशन लाल वर्मा, भगवती सागर, बृजेश प्रजापति, ममतेश शाक्य, विनय शाक्य, धर्मेंद्र शाक्य और नीरज मौर्य के भी विधायकी से इस्तीफा देने की सूचना है। भाजपा पार्टी के जानकारों की माने तो रोशन लाल वर्मा ही स्वामी प्रसाद मौर्य का इस्तीफा लेकर राजभवन गए थे। स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट कर उन्हें जल्दबाजी में निर्णय न लेने की अपील की है। उन्होंने ट्वीट किया है कि स्वामी प्रसाद मौर्य जी ने किन कारणों से इस्तीफा दिया है मैं नहीं जानता हूं। उनसे अपील है कि बैठकर बात करें जल्दबाजी में लिये हुए फैसले अक्सर गलत साबित होते हैं।

इन सीटों पर लगा भाजपा को झटका

न केवल रौशन लाल वर्मा और स्वामी प्रसाद मौर्या की तरफ से ही नही बल्कि अन्य सीटों से भी भाजपा विधायकों ने बागी सुर दिखाते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया और मंगलवार को उनके समाजवादी पार्टी में शामिल होने की चर्चाएं राजनीति के माहौल को गर्म कर गई। मिली जानकारी के मुताबिक ममतेश शाक्य  ने पटियाली (कासगंज) से इस्तीफा दिया तो वहीं विनय शाक्य  ने  विधूना (औरैया) से पार्टी से इस्तीफा दे दिया। इसके अलावा

धर्मेंद्र शाक्य ने शेखुपुर (बदायूं) जबकि बृजेश प्रजापति ने तिंदवारी (बांदा), रोशन लाल वर्मा  ने तिलहर भगवती सागर ने  बिलहौर और  नीरज मौर्य ने जलालाबाद से भाजपा पार्टी छोड़ दी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ