Subscribe Us

कानपुर बस हादसा : मौत बनकर दौड़ी इलेक्ट्रिक बस,15 को रौंदा

   सत्य स्वरूप संवाददाता

कानपुर। रविवार देर रात घंटाघर से टाट मील चौराहे तक एक इलेक्ट्रिक बस मौत बनकर दौड़ी। आधा दर्जन वाहनों को टक्कर मार 15 लोगों को रौंद दिया। आखिर में बीच चौराहे पर बने ट्रैफिक बुथ से टकराते हुए डम्फर में घुस गई। कई लोग घायल हैं। घायलों में कईयों की हालत गंभीर है। देर रात मृतकों चार की पहचान हो गई थी। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि रात करीब 11:30 बजे एक इलेक्ट्रिक पास तेज रफ्तार में घंटाघर चौराहे से 7 मील की तरफ जा रही थी पूर्व से पश्चिम दिशा में चालक ने दौड़ना शुरू किया और जो बीच में आया उसको रौंदते हुए निकल गया। डाट मिल चौराहे पर बने ट्रैफिक बुथ में टक्कर मारी और फिर चकेरी के तरफ से आ रहे डम्फर  से जाकर टकराई। हादसे में छह लोगों की मौत हो गई जिसमें से चार की शिनाख्त हो सकी है। अन्य मृतकों की पहचान के लिए पुलिस जांच में जुटी हुई है। रात में शहर के अधिकारियों और कई नेताओं का जमवाड़ा हैलट अस्पताल में लगने लगा  घायलों और  मृतको को ढाढस बांधते रहे।

 रामनाथ कोविंद ने हादसे पर शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा कि कानपुर में हुई बस दुर्घटना में कई लोग हताहत होने की खबर से अत्यंत दुख हुआ इस घटना में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवार के प्रतिमेरी गहन शोक संवेदनाएं लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं लाटूश रोड निवासी शिवम उर्फ़ शुभम सोनकर की अपने दोस्त ट्विंकल और सुनील सोनकर कि रमेश यादव की बस की चपेट  अजीत कुमार की मौत हो गई।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ