Subscribe Us

बाराबंकी : साले की हत्या में शामिल जीजा साथी संग गिरफ्तार

   जावेद शाकिब

 बाराबंकी। घरेलू हिंसा में मध्यस्थता करने पर एक बार फिर एक निर्दोष की जान चली गयी। थाना हैदरगढ़ अंतर्गत एक युवक लगातार अपनी पत्नी को मारता पीटता था जिसका उसके साले और ससुर ने विरोध किया। मौका पाकर युवक ने अपने साथी के साथ मिलकर  साले का अपहरण कर उसको मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने आरोपी जीजा और उसके साथी को गिरफ्तार कर हत्या का खुलासा किया है।

बीते 29 नवंबर को डाकू पुत्र छोटेलाल निवासी ग्राम कनवा थाना हैदरगढ़ जनपद बाराबंकी ने थाना हैदरगढ़ पर तहरीर दी कि उनके दामाद अनूप पुत्र गजराज निवासी पटवाखेरा थाना नगराम जनपद लखनऊ के फोन आने के उपरान्त उनका पुत्र धीरू (उम्र करीब 24 वर्ष) घर से समय 09.00 बजे निकला था, जिसके बाद काफी खोजबीन की गई, लेकिन उसका कोई पता नही चल रहा है। प्रार्थी को पूर्ण शंका है कि उसके पुत्र धीरू को उसके दामाद अनूप ने ही अपने कब्जे में रोक रखा है। इस सूचना पर थाना हैदरगढ़ पुलिस द्वारा अनूप के विरुद्ध मुक़दमा पंजीकृत किया गया।

   थाना हैदरगढ़ पुलिस टीम द्वारा घटना का खुलासा करते हुए  अनूप और उसके साथी विमलेश  गिरफ्तार किया गया। आरोपियों की निशांदेही पर घटना स्थल से मृतक का आधार कार्ड, मोबाइल फोन, हाफ स्वैटर, मृतक की अस्थियाँ व घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल बरामद की गयी। 

      अनूप ने पूछताछ में बताया कि घर में पत्नी से कहा सुनी व विवाद होने पर मेरे ससुर व साले घर पर आकर मुझसे गाली गलौज करते थे जिससे मेरी गांव में काफी बेइज्जती होती थी। इसी बात से क्षुब्ध होकर मैने अपने साले धीरू को विमलेश से काम के बहाने बुलवाया फिर मोटरसाइकिल पर बैठाकर थाना नगराम क्षेत्रान्तर्गत टिकरा जंगल में ले जाकर दारू पिला कर गला दबाकर हत्या कर दी, व शव को वही छिपा दिया था। 

   आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना हैदरगढ़ के प्रभारी निरीक्षक ब्रजेश कुमार वर्मा, व0उ0नि0 सुभाष चन्द्र यादव,उ0नि0 कन्हैया कुमार यादव, हे0का0 रामशंकर यादव, हे0का0 प्रदीप कुमार मिश्रा, का0 सोनू यादव, का0 विनय प्रताप सिंह, का0 अरूण कुमार का योगदान रहा। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ