Subscribe Us

लखनऊ में घर के भीतर भी नही महिलाएं सुरक्षित... देर रात घर में सो रही महिला पर धारदार हथिया से हमला

इंस्पेक्टर ने कहा महिला की हालत खतरे से बाहर आरोपी की तलाश जारी

निखिल वाजपेई

लखनऊ। लखनऊ की कमिश्नरेट पुलिस कितने ही महिला सुरक्षा के दावे करे लेकिन हकीकत कुछ और ही है। बंथरा में सात वर्षीय मासूम से दुष्कर्म के मामले में भले पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है लेकिन इसके ठीक अगले दिन ही पश्चिम जोन में एक महिला के ऊपर बदमाशो ने देर रात घर में घुसकर धारदार हथियार से हमला कर घायल कर दिया और फरार हो गए। कमिश्नरेट के पश्चिम जोन अंतर्गत सआदतगंज थाना क्षेत्र के अम्बरगंज चौकी के करीब यासीन गुलाब की बगिया में रहने वाली एक 50 वर्षीय महिला कि घर में घुस के शनिवार रात उसके गले पर धारदार हथियार से हमला कर उसे गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। महिला पर हमला कर हमलावर मौके से फरार हो गए। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और महिला को इलाज के लिए ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया जहां उसकी हालत नाजुक बताई जा रही है। इस्पेक्टर सहादतगंज बृजेश कुमार यादव ने बताया कि अंबरगंज के यसीनगंज गुलाब की बगिया मोहल्ले में रहने वाली 50 वर्षीय महिला शरीफ जहां के घर में घुस के रात करीब 2:30 बजे किसी व्यक्ति के द्वारा उनके गले पर चाकू से हमला किया गया है। उन्होंने बताया कि घायल महिला की एक बेटी है और व गुलाब की बगिया मोहल्ले में रहती है। उहोने बताया कि महिला शरीफ जहां पर हमला क्यों किया गया इसकी जांच की जा रही है। उनका कहना है कि शरीफ जहां के पति नहीं है और वह अपनी बेटी फलक के साथ ही रहती हैं। उन्होंने बताया कि महिला शरीफ जहां की हालत खतरे से बाहर है। आरोपी की तलाश सरगर्मी से की जा रही है।

  बेटी फलक की चीख सुनकर पहुँचे पड़ोसी

स्थानीय लोगो को कहना है कि रात करीब ढाई बजे शरीफ जहां के घर से उनकी बेटी फलक की चीख की आवाज़ सुन कर जब लोग आए तो शरीफ जहां के गले से खून निकल रहा था। जानलेवा हमले में घायल शरीफ जहां अपने घर मे ही परचून की दुकान चलाती है। हालांकि पुलिस हमले की वजह साफ-साफ तो नही बता रही है लेकिन माना यही जा रहा है कि हमला आस-पास के रहने वाले ने ही किया है। शरीफ जहां के घर से चाकू भी बरामद हुआ है। बताया ये भी जा रहा है कि हमलावर ने शरीफ जहां पर पहले ताले से हमला किया फिर चाकू से गला रेत दिया। 

नही रुक रही अम्बरगंज चौकी क्षेत्र में घटनाएं

आपको बता दें कि, अम्बरगंज चौकी क्षेत्र में 6 दिनों के अंदर मारपीट की तीन वारदात घटित हुई थी। जिसमें 21 नवंबर को एक बारात में घुसकर स्थानीय दबंगों ने मारपीट और महिलाओं से अभद्रता की थी। उसके उपरांत अंबरगंज चौकी क्षेत्र में ही बिजली कर्मियों से मारपीट की गई थी। उसके उपरांत यासीन क्षेत्र में ही कुछ दबंगों के द्वारा एक फेरीवाले से मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया था। स्थानीय लोगों का कहना है कि इस क्षेत्र में दबंग दबंगई पर उतारू रहते हैं और पुलिस उन पर मजबूत कार्यवाही नहीं करती है। इसकी वजह से दबंगों के हौसले बुलंद रहते हैं और आए दिन मारपीट और इस तरह की घटना घटित हो जाती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ