Subscribe Us

सात सूत्रीय माँग को लेकर भारतीय किसान यूनियन टिकैत द्वारा नायब तहसीलदार को सौंपा गया ज्ञापन

   मोहम्मद शाहिद

  बाराबंकी। भारतीय किसान यूनियन टिकैत के तहसील नवाबगंज स्तर से किसानों व जन समस्याओं को लेकर 7 सूत्रीय ज्ञापन नायब तहसीलदार नवाबगंज को तहसील अध्यक्ष नवाबगंज मोहम्मद रियाज की अगुवाई दिया गया। ज्ञापन में माँग की गई है कि धान खरीद को लेकर चल रहे किसानों के उत्पीड़न और क्रय केंद्रों पर हो रही धांधली ग्राम पंचायत मसौली के लेखपाल व लेखपाल मुंशी जगत के द्वारा किए जा रहे धन उगाही जिसमें आय, जाति, निवास, धान क्रय सत्यापन के नाम पर अवैध वसूली की जा रही है साथ ही ग्राम सभा के ग्रामीणों को रोजगार के लिए चक मार्ग, खड़ंजा, नाली, नाला आदि की नाप करने के लिए समय नहीं है जिससे ग्राम पंचायत में शांति व्यवस्था बनी रहे और उक्त को लेकर विवाद उत्पन्न ना हो और वही ग्राम सभा की सार्वजनिक जमीनों पर अवैध अतिक्रमण और पक्का निर्माण कराने हेतु अवैध वसूली कर समय पर पहुंचने जैसे कार्य चरम सीमा पर है। विद्युत विभाग द्वारा विद्युत बिल से अधिक एरियर लगाकर उपभोक्ताओं से वसूली की जा रही है जिसमें मीटर जंपिंग और मीटरों की गड़बड़ी से उपभोक्ता त्रस्त है।

 शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के छुट्टा जानवरों हेतु गौशाला बनवाई जाए जिसमें मसौली ब्लाक निकट पूजावा पर गौशाला बनाने हेतु 1 वर्ष पूर्व जगह का चंदा अंकन किया जा चुका है किंतु आज तक गौशाला नहीं बन पाई जिससे क्षेत्रीय किसानों की फसलों को बड़ा नुकसान उठाना पड़ रहा है इसे तत्काल बनवाया जाए।

   ग्राम पंचायत मझौली के पूर्व प्रधान ई कार्यकाल 2019-20 से प्रस्तावित कार्ययोजना में तीन कवर्ड नाली बनवाने हेतु प्रस्तावित है जिसमें कई बार भारतीय किसान यूनियन टिकैत द्वारा आंदोलन किया गया और आश्वासन के रूप में तरह-तरह के प्रशासन द्वारा बहाने बताए गए जिन्हें करवाना अत्यंत आवश्यक है शीघ्र करवाया जाना चाहिए।

    तहसील नवाबगंज के पीएचसी चिकित्सालय मसौली व सीएचसी बड़ागांव में डॉक्टर व दवाएं उपलब्ध नहीं कराई जा रही है तथा किसानों से अभद्रता की जाती है और वही महिला जिला चिकित्सालय में प्रसव की दशा में अधिकांश किसानों मजदूरों की बहू बेटियों को संसाधनों की कमी बताकर सीधा लखनऊ के लिए रिफर किया जाता है कहीं ब्लड प्रेशर हाई  बताया जाता है तो कहीं खून की कमी कोई ना कोई समस्या हीला हवाली कर डराया धमकाया जाता है जिससे वह प्राइवेट हॉस्पिटलों में प्रसव कराने पर मजबूर किए जाते हैं जिसमें महिला चिकित्सालय की महिला अधीक्षक और आशा बहुओं का मुख्य रोल होता है तथा इन्हीं के संरक्षण में प्राइवेट दलाल अस्पताल के अंदर घूमा करते हैं जिसकी जांच तत्काल कराई जानी चाहिए।

    ग्राम पंचायत मसौली और नैनामऊ आज ग्राम पंचायत के गरीब किसानों मजदूरों की जांच कर प्रधानमंत्री आवासीय योजना से लाभ अंत किया जाए दर्जनों किसानों ने सैकड़ों बार ब्लॉक मुख्यालय पर जाकर आवेदन किए गए किंतु उन्हें आवास न देकर ₹20000 प्रति आवास लेकर आ पात्रों को चयनित कर लिया गया इसकी जांच होना अति आवश्यक है था आवास योजना का लाभ लेने वाले व्यक्तियों की सूची सार्वजनिक की जानी चाहिए आज समस्याओं को लेकर ज्ञापन दिया गया यदि 1 सप्ताह में निस्तारण नहीं किया गया तो भारतीय किसान यूनियन टिकैत अनिश्चितकालीन आंदोलन करने को बाध्य होगी जिसकी समस्त जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।

   इस अवसर पर रामबरन वर्मा किसान नेता, विक्रांत सैनी ब्लॉक अध्यक्ष बंकी, मोहम्मद इस्माइल नगर अध्यक्ष नवाबगंज, इरफान अली ब्लॉक अध्यक्ष मसौली, शांति देवी महिला ब्लॉक अध्यक्ष मसौली, मोहम्मद अशफाक, रसूल अहमद उर्फ गुल्ले, नावेद असलम, तौहीद खान, तैयब खान, संतोष कुमार, लालजी यादव, मोहम्मद अंसार, मोहम्मद इमरान, मोहम्मद अलीम, अहिबरन यादव आदि सैकड़ों किसान मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ