Subscribe Us

चौधरी उबैद के नेतृत्व में लखीमपुर हिंसा में शहीद हुए किसानों को दी गई श्रद्धांजलि

  मोहम्मद अरशद

 बाराबंकी। कुर्सी विधानसभा से टिकट की दावेदारी कर रहे सपा नेता चौधरी उबेद के नेतृत्व में तीन अलग-अलग गांव में लखीमपुर हिंसा में शहीद हुए किसानों को श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि सभा में क्षेत्र की सभी जाति धर्म की महिलाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। महिलाओं ने हाथ में मोमबत्ती लेकर शहीद किसानों को विनम्र श्रद्धांजलि दी।

    इसके बाद सभा को संबोधित करते हुए चौधरी उबेद ने कहा कि बीजेपी सरकार के कार्यकाल में किसानों का बुरा हाल हो गया है। तीन कृषि कानूनों की वापसी व अपना हक पाने के लिए पिछले 1 साल से किसान धरने पर बैठा है लेकिन सरकार के तानाशाही रवैया के कारण लगभग 750 किसानों की जाने चली गई। सरकार ने किसान विरोधी बिल वापस लेने का ऐलान किया है लेकिन अभी वापस नहीं लिया है इनकी बातों में फंसकर एक बार आप लोग धोखा खा चुके हैं अब इनके बहकावे में ना आएं।

   वहीं क्षेत्र के एक अन्य गांवों में धनुष यज्ञ कार्यक्रम में पहुंचे चौधरी उबैद ने कहा कि हमारा भारत गंगा जमुनी तहजीब का देश है लेकिन पिछले 7 सालों में बीजेपी ने देश के अंदर जो नफरत का माहौल पैदा कर दिया है हमें इसे खत्म करके देश में अमन चैन का पैगाम देना है। चुनाव आते ही फिर इन्होंने हिंदू मुस्लिम कार्ड खेलना शुरू कर दिया है इनसे सावधान रहने की जरूरत है नहीं तो यह हमें आपस में लड़ा कर देश बेचने का काम करते रहेंगे।

   इस दौरान क्षेत्र के बहुत से लोगो ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की और अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए जनजन तक पहुंचकर सपा के8 नीतियों को बताने की मुहिम छेड़ने का एलान किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ