Subscribe Us

आलू की फसल को झुलसा रोग से बचाव हेतु अडवाइजरी जारी

   अनवर अशरफ 

  कानपुर। चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कानपुर के पादप रोग विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष एवं प्रोफेसर डॉ यूके त्रिपाठी ने आलू उत्पादक किसान भाइयों के लिए आलू में झुलसा रोग बचाव हेतु एडवाइजरी जारी की है। उन्होंने बताया कि आलू उत्पादक किसान भाई ध्यान दें कि दिन में अधिक धूप निकले और तापमान अधिक हो तो आलू फसल की वानस्पतिक प्रति अधिक होती है जिससे कंदों की संख्या कम हो जाती है। तथा दिन में बादल और कोहरा पड़े तो अगेती झुलसा आने की प्रबल संभावना है पिछले कई दिनों से मौसम में हो रहे बदलाव एवं आसमान में बादल छाने के कारण दिन का तापक्रम 20 से 25 डिग्री सेल्सियस तथा रात्रि का तापक्रम 7.5 से 10 डिग्री सेल्सियस तक हो गया है साथ ही साथ आद्रता 80% से अधिक हो गई है जिस कारण आलू फसल में झुलसा रोग आने की संभावना बढ़ गई है। अतः किसान भाइयों को झुलसा रोग से बचाव हेतु कवकनाशी जैसे  मैनकोज़ेब, क्लोरोथैँलोनील या कापर हाइड्रोक्साइड की 0.2 प्रतिशत अर्थात 2 ग्राम प्रति लीटर पानी में घोलकर फसल का छिड़काव करें अधिक जानकारी के लिए विभागाध्यक्ष डॉ यूके त्रिपाठी  के दूरभाष नंबर
94 54 03 22 08 या 82 99 34 58 52 पर किसान भाई संपर्क करे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ