Subscribe Us

बाराबंकी में पत्रकार वार्ता में बोले प्रमोद तिवारी यूपी में 100 सीटों पर सिमट जाएगी बीजेपी

  मोहम्मद शाहिद

  बाराबंकी। शहर के टेस्टी बाइट हॉल में कांग्रेस द्वारा आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय कांग्रेसी वर्किंग कमेटी के सदस्य प्रमोद तिवारी ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा ने अपनी नैतिक हार स्वीकार कर ली है इसलिए किसान, महंगाई, बेरोजगारी, अपराध के बढ़ते मुद्दों पर चुनाव नहीं लड़ रही है। बीजेपी के नेता चुनावी रैलियों में सिर्फ सांप्रदायिक बातें कर रहे हैं। प्रदेश में पिछले 5 सालों में इन्होंने कोई ऐसा काम नहीं किया है जिसको बताकर यह जनता के बीच जा सके। 

   उन्होंने आगे कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में जनता बीजेपी को 100 सीट से अधिक नहीं देने वाली। 2022 में उत्तर प्रदेश में प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है। बीजेपी ने अपने खास मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए तीन कृषि कानून बनाए, लेकिन पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में हार को देखते हुए और किसानों के भारी विरोध ने इन कानूनों को वापस लेने पर सरकार को मजबूर कर दिया। कानपुर में एक व्यापारी के यहां से 200 करोड़ रुपए से अधिक काला धन मिला। यह सरकार के मुंह पर तमाचा है। देश के प्रधानमंत्री और बीजेपी के लोग यह कहते थे कि नोटबंदी से काला धन समाप्त हो जाएगा इतनी बड़ी रकम मिलना नोटबंदी की विफलता को दर्शाता है।

  आगे श्री तिवारी ने कहा कि पिछली पिछले 70 सालों में बनाई गई धरोहर को नरेंद्र मोदी सरकार धीरे-धीरे बेच रही है जिससे युवाओं के रोजगार का संकट उत्पन्न हो गया है कहां हर साल 2 करोड़ नौकरियों का वादा करके सत्ता में काबिज हुए थे और कहां अब पकौड़े बेचने की बात करते हैं। महंगाई से हर वर्ग के लोग परेशान हैं। प्रधानमंत्री जी अपने आप को फकीर कहते हैं और 10 लाख का सूट पहनते हैं, महंगी लग्जरी गाड़ियों में घूमते हैं, अपने लिए महंगे हवाई जहाज खरीदते हैं। और यह सब पैसा आम जनता से महंगाई बढ़ाकर वसूल करते हैं।

   उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए श्री तिवारी कहते हैं कि प्रदेश में हत्या बलात्कार फिरौती छिनैती आदि घटनाओं में कई गुना बढ़ोतरी हो गई है। लेकिन अगर अपराधी का ताल्लुक बीजेपी से हो तो उसके गुनाह माफ कर दिए जाते है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ