Subscribe Us

सीएम सुरक्षा में तैनात सिपाही कि मौत बनी पहेली, गुत्थी सुलझाने में पुलिस फिलहाल नाकाम

 


आख़िर क्या है शेष कुमार की आत्महत्या का रहस्य

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में सीएम सुरक्षा में तैनात सिपाही शेष कुमार सिंह द्वारा कथित रूप से आत्महत्या किये जाने का मामला बड़ी पहेली बन गया है। सिपाही की मौत अपने पीछे कई सवाल खड़े कर गयी है। इस गूढ़ रहस्य को सुलझाने में फिलहाल लखनऊ पुलिस नाकाम ही साबित हो रही है। हालाँकि पुलिस का दावा है कि मामले में हर बिंदु पर जाँच की जा रही है। इस मामले में  महानगर पुलिस ने सिपाही का आवास खंगाला लेकिन कोई नोट या ऐसी चीज नही मिली जिससे घटना के कारण का पता लगाया जा सके।

रिश्तेदारों व परिचितों से पूछताछ

महानगर पुलिस ने गोंडा निवासी शेष कुमार के परिजनों, रिश्तेदारों और परिचितों से काफी पूछताछ की। सबका कहना है कि शेष ने कभी उनसे कोई ऐसी बात नही की जिससे उसके ऐसी मानसिक स्थित का अंदाजा लगाया जा सके। परिजनों ने पुलिस को बताया कि परिवार में भी कोई कहासुनी नही हुई जिससे ऐसे हालात बनते।

आख़िर भतीजे को क्यों नही लगा अंदाजा ?

शेष कुमार ने जिस वक्त खुद को गोली मारकर आत्महत्या किया उस समय उसका भतीजा विपिन उनके साथ ही आवास में था। पुलिस ने भतीजे से काफी देर तक बातचीत की। उसने बताया कि रात तक सबकुछ ठीक था। सुबह शेष ड्यूटी से लौटे तो वह सो रहा था। जागने के बाद बाथरूम में चला गया। इसी दौरान उसे गोली की आवाज सुनाई दी। वहां दौड़कर पहुँचा तो शेष खून से लथपथ पड़े थे। दो दिन से उनके साथ था लेकिन कोई ऐसी बात नही हुई जिससे ऐसा कदम उठाने का अंदाजा लगता।

तो क्या सहकर्मियों से मिलेगा कोई सुराग ?

परिजनों और रिश्तेदारों से बातचीत के बाद पुलिस को लग रहा है कि किसी बाहरी कारण से शेष ने खुदकुशी की है। शुक्रवार रात शेष ड्यूटी गए थे। सुबह ड्यूटी से लौटने के बाद उन्होंने सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मारी। पुलिस रात में उनके साथ ड्यूटी पर रहे सहकर्मियों और अन्य स्टाफ से पूछताछ करके पता लगा रही है कि किससे उनकी क्या बातचीत हुई थी। महानगर इंस्पेक्टर दिनेश मिश्रा का कहना है कि अभी छानबीन चल रही है। फिलहाल आत्महत्या का कारण स्पष्ट नही हो पाया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ