Subscribe Us

प्रेमी को बुलाया घर फिर परिजनों संग षड्यंत्र रचकर कर दी प्रेमिका ने हत्या, किशोर समेत तीन गिरफ्तार


हत्या के बाद घर के सेफ्टी टैंक में डिस्पोज कर दिया था शव, रहस्यमयी हत्याकांड का पर्दाफाश

मृतक के भाई ने प्रेमिका समेत चार को किया था नामजद

निखिल वाजपेई

लखनऊ। दक्षिण जोन के पारा थाना क्षेत्र में रजनीश की हत्या की कहानी किसी और ने नही बल्कि उसकी प्रेमिका ने ही गढ़ी थी। पारा पुलिस ने इस सनसनीखेज हत्याकांड का पर्दाफाश करते हुए आरोपित प्रेमिका उसके रिश्तेदार व एक नाबालिग को गिरफ्तार किया है। हालांकि हत्याकांड का पर्दाफ़ाश करने के बाद पुलिस टीम द्वारा यह ही बताया गया है कि मृतक रजनीश कई दिनों से अपनी प्रेमिका व हत्यारोपित नैना को परेशान कर रहा था जिसके चलते ही प्रेमिका ने उसे अपने नवनिर्मित मकान पर बुलाकर मौत के घाट उतार दिया था। पारा थाना क्षेत्र के सलेमपुर पतोरा गांव में रहने वाला 24 वर्षीय रजनीश यादव शकुंतला मिश्रा विश्वविद्यालय में पढ़ाई करता था । रजनीश बुधवार की दोपहर घर से निकला था और वापस नहीं आया। रजनीश के भाई मनीष यादव ने गुरुवार की सुबह पारा थाने पहुंच कर अपने भाई की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज करने के बाद पारा पुलिस ने जब सलेमपुर पतोरा में रहने वाले प्रवेश यादव के घर पहुंच कर छानबीन की तो पता चला कि रजनीश यादव की लाश उसकी हत्या करने के बाद घर के सेफ्टी टैंक में डाल दी गई थी । पुलिस ने टैंक से रजनीश का शव बाहर निकलवाया तो उसका एक कान भी कटा हुआ था । मृतक रजनीश यादव के भाई मनीष यादव ने प्रवेश यादव, सुनील यादव, और एक युवती को भी नामजद करते हुए पारा थाने में तहरीर दी थी। मृतक के भाई के अनुसार रजनीश का प्रवेश की बेटी के साथ प्रेम प्रसंग था और इन लोगों के द्वारा ही उसके भाई की हत्या कर उसकी लाश को घर के सेफ्टी टैंक में फेंक दिया गया । सेफ्टी टैंक से जब शव निकाला गया तो रजनीश का शव क्षत-विक्षत अवस्था में पाया गया । पुलिस ने मौका ए वारदात पर मिले सबूतों को अपने कब्जे में लेने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है । एसीपी काकोरी ने सिर्फ इतना ही बताया था कि एक दिन पहले से लापता रजनीश यादव का शव गांव के बाहर प्रवेश यादव के घर के सेफ्टी टैंक से बरामद हुआ है । शुक्रवार को पारा पुलिस ने हत्या में शामिल प्रेमिका नैना यादव, उसका रिश्तेदार सुनील यादव व नैना के नाबालिग भाई को आगरा एक्सप्रेवे से गिरफ्तार करते हुए हत्या में प्रयुक्त हथौड़ा, छेनी और खून से सना एक डंडा भी बरामद किया है।


तो क्या वाकई रजनीश से परेशान थी नैना

मृतक रजनीश के भाई मनीष ने बताया कि उसके भाई का नैना यादव के साथ प्रेम प्रसंग था। घर वालो की अड़चनों या किन्ही और कारणों से नैना ने रजनीश से दूरी बनाना शुरू कर दिया। इसके बावजूद रजनीश नैना के प्रेम में इस कदर पागल था कि वह लगातार नैना से संपर्क में था। जिसके बाद नैना ने ही फोन कर रजनीश को अपने नवनिर्मित घर मे बुलाया था और रजनीश की हत्या को अंजाम देकर उसके शव को घर के सेफ्टी टैंक में डाल दिया। हालाँकि भले इस हत्याकांड से पर्दा उठ गया हो लेकिन फिर भी कई सवाल अब भी बने हुए हैं। इन सब के बीच सबसे बड़ा सवाल है कि क्या वाकई में रजनीश की प्रेमिका नैना रजनीश द्वारा लगतार परेशान किये जाने से आहत थी जो इसने इस हत्याकांड को अंजाम दिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ