Subscribe Us

आईआईएम लखनऊ कैम्पस बनेगा इंसानी दमखम का गवाह

24 घंटे में माउंट एवरेस्ट के बराबर ऊंचाई पार करेंगे पूर्व नौसैनिक हरिशंकर यादव 

ज़ाहिद अली

लखनऊ। भारत के प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थानों में से एक आईआईएम लखनऊ के कैम्पस में पूर्व नौसैनिक हरिशंकर यादव स्टेप क्लाइंब में नया विश्व कीर्तिमान बनाने के लिए पूरी तरह उत्साहित हैं। राणा प्रताप मार्ग पर आयोजित वार्ता में राजधानी के पत्रकारों से बात करते हुए आजमगढ़ निवासी हरिशंकर ने बताया कि नौसेना की सेवा के दौरान उन्हें शारीरिक अनुशासन के साथ देश की प्रतिष्ठा को आगे बढ़ाने की जो ट्रेनिंग मिली है, उसी के नाते वे साईकिलिंग में एक विश्व कीर्तिमान पहले ही स्थापित कर चुके हैं और अब स्टेप क्लाइंब जैसी कठिन स्पर्धा में विश्व कीर्तिमान बनाने की तैयारी में जुटे हैं। वर्तमान समय में आईआईएम लखनऊ की सिक्योरिटी सेवा में कार्यरत हरिशंकर के  अनुसार आगामी 12 फरवरी 2022को आयोजित होने वाले इस कीर्तिमान आयोजन के लिए उन्हें ब्रिटिश राजदूतावास से औपचारिक अनुमति मिल चुकी है जो गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स में नाम दर्ज कराने के लिए अनिवार्य प्रक्रिया है। हरिशंकर के अनुसार अगले साल फरवरी माह की 12तारीख को वे 15 इंच ऊंची सीढ़ी पर 24 घन्टे तक लगातार चढ़-उतर कर इस विश्व कीर्तिमान को स्थापित करने की तैयारी में जुटे हैं। उन्होंने बताया कि यह कुल ऊंचाई 10 किलोमीटर से भी अधिक हो जाती है, मतलब हरिशंकर यादव आने वाली 12 फरवरी को माउंट एवरेस्ट जितनी ऊंचाई तक चढ़ने के बाद उतरने का भी कारनामा कर दिखायेंगे और इसके साथ ही स्टेप क्लाइंब के क्षेत्र में कीर्तिमान स्थापित करने वालों में एक और भारतीय का नाम भी जुड़ जायेगा। हरिशंकर ने बताया कि लखनऊ की भूमि से भारत तथा उत्तर प्रदेश की प्रतिष्ठा को आगे बढ़ाने वाली इस स्टेप क्लाइंब स्पर्धा का लाइव प्रसारण गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स की आधिकारिक कम्पनी वेबसाइट पर लगातार 24 घन्टे किया जाएगा।

इस दौरान लखनऊ तथा दिल्ली के अनेक प्रतिष्ठित समाचार पत्रों और खेल समाचार चैनलों के संवाददाताओं को भी कवरेज के लिए आमंत्रित किया जा रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ