Subscribe Us

यूपीएससी : चुनौती एवं संभावनायें' विषय पर आयोजित हुआ सेमिनार

 राजकीय बालिका इंटर कॉलेज में आयोजित हुआ कार्यक्रम

 दिल्ली एवं पटना से आयी टीम ने छात्राओं को बताए सफलता के टिप्स

निखिल वाजपेई

लखनऊ। राजकीय बालिका इंटर कॉलेज, विकास नगर ,लखनऊ में 'यूपीएससी : चुनौती एवं संभावनायें' विषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया। इस मौके पर बिहार से आये मुख्य अतिथि पटना विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो.(डॉ.) आरबी सिंह ने कहा कि हमारे देश की विशाल युवा आवादी हमारे लिए एक अवसर है, जिसमें सरकारी तंत्र के साथ ही साथ निजी संस्थाओं व सामाजिक संगठनों की बड़ी भूमिका है। समाज के गरीब और प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को सिविल सेवा की तैयारी कराने वाले  (आईएएस) की जितनी भी तारीफ की जाए कम है। 

         पीयू के पूर्व कुलपति प्रो. आरबी सिंह ने कहा कि कोरोना काल में स्टैंडर्ड वन से पोस्ट ग्रेजुएट तक की पढ़ाई करने वाली 157 करोड़ युवा पीढ़ी घर में बैठ गया जिनमें 58 करोड़ भारतीय थे। पूरे ऐतिहासिक काल में इतना बड़ा हादसा कभी नहीं हुआ जब इस ग्रह के सबसे उर्जावान और रचनात्मक युवाशक्ति पूरी तरह अपने घर बैठ गया। 2050 ईसवी तक आते - आते यह वर्ग 20  से 55 आयु वर्ग का होगा। हमें अब उस दिशा में सोचनी होगी कि 2050 का भारत कौन बनाएगा। यदि हमारा देश उन युवाओं को नियोजित नहीं करता तो यह हमारा सबसे बड़ा दुर्भाग्य होगा। 

         इस मौके पर आईआरएस जयराम वर्मा एवं डॉ. शिवशंकर सिंह ने छात्रों को सिविल सेवा की तैयारी के गुर बताए।उन्होंने कहा कि यूपीएससी की परीक्षा को लेकर आज भी लोगों में काफी भ्रांतियां है कि इसमें सफल होना असंभव है, लेकिन सही मायने में ऐसा नहीं है। विद्यार्थियों में दृढ़ इच्छाशक्ति और लगन हो तो कोई भी छात्र सफल हो सकता है। मुख्यतः इस कठिन परीक्षा में सफलता के लिये अभ्यर्थियों में शैक्षिक योग्यता के साथ अनुशासन और धैर्य होना अति आवश्यक है। 

दिल्ली से आये विशेषज्ञ व शिक्षक संजय कुमार ने छात्राओं को यूपीएससी परीक्षा की रणनीतियों के बारे में जानकारी दी। इस दौरान शिक्षकों, अभिभावकों व छात्राओं ने पूरे उत्साह के साथ भाग लिया।  

      मंच संचालन राजकीय बालिका इंटर कॉलेज, लखनऊ की प्राचार्य कुसुम वर्मा ने किया , उन्होंन छात्राओं जोश से भर दिया । संस्थान के निदेशक बिलास कुमार ने कहा कि सेमिनार का उद्देश्य छात्राओं को देश के इस सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा की तैयारियों को लेकर जानकारी उपलब्ध कराना है। यह सेमिनार गौतम  बुद्धा ग्रामीण विकास फाउंडेशन जीबीआरडीएफ की ओर से संचालित अभियान (आईएएस) एवं राजकीय बालिका इंटर कॉलेज, लखनऊ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित  इस कार्यक्रम में अभियान  IAS के बिलास कुमार ने सभी का हार्दिक स्वागत किया ।इस मौके पर बड़ी संख्या में गणमान्य लोगों , श्री हरेन्द्र कुमार,  ओम सिंह,  बीना वर्मा आदि ने भाग लिया।

विद्यालय की प्रधानाचार्य कुसुम वर्मा ने विद्यालय की सभी शिक्षिकाओं को शिक्षा में उत्कृष्ट योगदान के लिए सम्मानित किया । होनहार बच्चों में समर्पण वर्मा,  सृजन वर्मा, सुहानी सिंह , कहकशां, मौसम भारती , पूजा गौतम,  पिंकी आदि बच्चों उत्कृष्ट लेखन व गायन के लिए पुरस्कृत किया गया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ