Subscribe Us

पहले करते थे रेकी फिर मौका पाते ही कर देते थे मकानों पर हाँथ साफ, आधा दर्जन शातिर गिरफ्तार


सोने और चाँदी के जेवरों व अन्य कीमती सामानों पर रहती थी नजर, नगदी भी मिल जाये तो सोने पर सुहागा

डेढ़ लाख से ज्यादा नगदी, समेत लाखों का माल बरामद

निखिल वाजपेई

लखनऊ। दक्षिण जोन की सुशांत गोल्फ सिटी पुलिस एक शातिर चोरो के गिरोह का पर्दाफाश करते हुए आधा दर्जन चोरो को गिरफ्तार कर डेढ़ लाख से ज्यादा नगदी व लाखो के जेवर बरामद किए हैं। एसीपी गाजीपुर स्वाती चौधरी ने बताया कि इंस्पेक्टर सुशांत गोल्फ सिटी विजयेंद्र सिंह के नेतृत्व में एसएसआई जंगबहादुर सिंह पुलिस टीम को लेकर प्लासियो मॉल के पास चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान वहाँ पुलिस मुखबिर ने आकर सूचना दी कि इकाना स्टेडियम के पीछे छः संदिग्ध लोग मौजूद है जो शायद किसी घटना को अंजाम देने की फिराक में है उन्हें चेक कर लिया जाए। इस पर जंगबहादुर सिंह पुलीस टीम लेकर मौके पर पहुँचे और काशीराम, नन्हे, रामतेज, राजितराम, कुशमेश और मनोज नामक छः संदिग्धों को लेकर पूछताछ की तो इस चोरी के बड़े गिरोह का पर्दाफाश हो गया। इन सभी के पास से दो लैपटॉप, एक एलईडी, छः डिब्बो में रखे सोने व चांदी के लाखों के आभूषण व एक लाख पच्चासी हजार रुपए, अलग से नगदी 950 रुपये व अन्य सामान समेत घटना में प्रयुक्त करने वाली दो बाइक बरामद की है।

सबका बंटा था अलग अलग काम

इंस्पेक्टर विजयेंद्र सिंह ने बताया कि सभी आरोपियों में सबके अपने अपने काम बंटे थे। इनमें से कोई रेकी करता था तो कोई बन्द तालों को तोड़ने में एक्सपर्ट था। इसके अलावा चोरी का माल कहाँ और किसको बेचना है यह भी सुनिश्चित होता था। एसीपी स्वाति चौधरी ने बताया कि ये सभी बहराइच के रहने वाले है और यहां आसपास के इलाके में रहकर चोरी की वारदातों को अंजाम देते थे। महंगे शौख और नशे की लत की वजह से ये सभी चोरियों को अंजाम देते थे। पकड़े गए आरोपियों का आपराधिक इतिहास निकाला जा रहा है व गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में भी पता लगाया जा रहा है, हालाँकि आरोपियों ने गिरोह में अन्य सदस्य न होने की बात कही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ