Subscribe Us

फर्जी लूट की साजिश रचने वाले युवक को मसौली पुलिस ने किया गिरफ्तार, 1 लाख 79 हजार रूपये बरामद


   जावेद शाकिब

   बाराबंकी। शराब की दुकान पर सेल्समैन का काम करने वाले युवक ने रुपए हड़पने की नियत से फर्जी लूट की साजिश रच डाली। उसने रास्ते में मोटरसाइकिल खड़ी कर रुपयों से भरा बैग झाड़ी में छिपा दिया और टैंपो में बैठकर इधर उधर घूमने लगा। 5 घंटे बाद मालिक को किसी दूसरे के मोबाइल से फोन कर लूट की घटना की जानकारी दी। दुकान मालिक ने मसौली थाने पर लूट की सूचना दी। शक होने पर पुलिस ने सेल्समैन से कड़ाई से पूछताछ की। पूछताछ से पता चला कि लूट की घटना फर्जी थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर पूरा पैसा बरामद कर लिया है।

लूट के 5 घंटे बाद दुकान मालिक ने पुलिस को दी सूचना

    शराब कारोबारी अजीत कुमार पुत्र रामदेव निवासी रगड़गंज बाजार थाना तरबगंज गोण्डा द्वारा थाना मसौली पर सूचना दी गयी कि रामनगर व मैलारायगंज में मेरी शराब की दुकान से   बिक्री का करीब 02 लाख रूपये सेल्समैन सोनू यादव पुत्र फौजदार यादव निवासी नारायणीपुरवा थाना रामनगर  बाराबंकी लेकर मेरे पास आ रहा था कि दोपहर में करपिया नहर के आगे दो अज्ञात व्यक्ति जो स्वीफ्ट डिजायर कार से आये और सेल्समेन सोनू यादव से रूपये लूट कर भाग गये। इस सूचना के आधार पर थाना मसौली में अज्ञात लुटेरों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया।

घटना के खुलासे के लिए तीन टीमों का किया गया गठन

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद द्वारा लुटेरों की गिरफ्तारी करने का आदेश दिया जिसके बाद क्षेत्राधिकारी रामनगर दिनेश कुमार दूबे ने तीन टीमों का गठन किया।  गठित पुलिस टीम द्वारा मैनुअल इंटेलीजेंस एवं डिजिटल डेटा के एनॉलसिस किया गया एवं थाना मसौली पुलिस टीम द्वारा  आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। घटना का खुलसा करते हुए पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया की सोनू यादव फर्जी लूट की घटना दिखाकर रूपये हड़पने चाहता था। सेल्समैन सोनू यादव  निवासी नारायणीपुरवा थाना रामनगर  को गिरफ्तार कर लिया गया गया है तथा उसकी निशांदेही पर नेवला करसण्डा करपिया के पास से 1 लाख 79 हजार 460 रूपये बरामद किया गया हैं। सोनू के खिलाफ धारा 392, धारा 408/420/411  में मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

तीन वर्ष से सोनू दुकान पर कर रहा था सेल्समैन का काम

  पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया की पूछताछ एवं जांच से सामने आया कि सोनू लगभग 03 वर्षों से शराब की दुकानों पर सेल्समैन का कार्य कर रहा था और शराब बिक्री के रूपये को लेकर मालिक को देने जाता था सोनू को रूपयों को जरूरत थी तो उसने लूट की योजना बनाई। 16 अक्टूबर को दोपहर में शराब बिक्री के 01,79,460/- रूपयों को लेकर आ रहा था तो नेवला करसण्डा करपिया नहर के पास अपनी मोटर साइकिल को सड़क किनारे लॉक कर खड़ी कर दिया और 01,79,460/- रूपयों को वहीं पास में झाड़ियों में छिपा दिया। इसके उपरान्त टेम्पो पर बैठकर 4-5 घण्टे घूमता रहा और शाम को सीनू यादव ने राह चलते व्यक्ति के मोबाइल से मालिक को रूपयों के लूटे जाने के सम्बन्ध में बताया। पुलिस मुस्तैदी से जांच में जुट गई, पुलिस जांच में मालूम हुआ कि लूट की घटना पूरी तरह से फर्जी थी आरोपी सोनू की निशांदेही पर पुलिस ने पूरा पैसा बरामद कर लिया है।

इन पुलिस कर्मियों ने किया फर्जी लूट की घटना का खुलासा

प्रभारी निरीक्षक श्री सुमित कुमार श्रीवास्तव,उ0नि0 धनीराम वर्मा, उ0नि0 श्री सुधीर कुमार यादव, हे0का0 राम नयन सिंह, का0 सचिन कुमार,बाराबंकी

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ