Subscribe Us

फर्जी पत्रकार को पुलिस ने भेजा जेल, चोरी की स्कूटी कर लिखा रखा था पत्रकार

   मुबारक अली 

   शाहजहांपुर यूपी। पत्रकारिता की छवि को धूमिल करने वाले हैं फर्जी पत्रकारों की बाढ़ सी आर चुकी है। कुछ लोग अपनी काली करतूतों को छुपाने के उद्देश्य से जुगाड़ लगाकर फर्जी आई कार्ड बनवा लेते हैं और पत्रकार बनकर रुआब  दिखाते रहते हैं लेकिन कहावत है कि बकरे की अम्मा कब तक खैर मनायेगी।

   उ0नि0 पवन कुमार पाण्डेय चौकी प्रभारी थाना कोतवाली ने वाहन चेकिंग के दौरान एक स्कूटी को चेक किया तो उस पर फर्जी नंबर प्लेट लगा हुआ था। स्कूटी के आगे बड़ा बड़ा पत्रकार लिखा हुआ था। संदेह होने पर जब पुलिस ने उसको रोककर तलाशी ली तो उसके पास से अवैध तमंचा व कारतूस और एक फर्जी प्रेस कार्ड बरामद हुआ, पुलिस ने युवक को गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया है।

   कोतवाली प्रभारी हरपाल सिंह बालियान ने बताया है कि 1 सितंबर की रात को बरेली मोड़ हाईवे ओवर ब्रिज के नीचे चेकिंग के दौरान मुबीन उर्फ मोनू पुत्र मोइनुद्दीन निवासी मोहल्ला मेहमान शाह थाना कोतवाली एक स्कूटी जिसकी अगली नंबर प्लेट पर मोटे मोटे अक्षरों में पत्रकार लिखा है तथा पीछे टेंपरेरी नंबर अंकिता था, तलाशी लेने पर एक अवैध तमंचा व कारतूस बरामद हुए पूछताछ करने पर माफी मांगते हुए बताया कि मैं अपनी बहन के पास दिल्ली में चप्पलों की फड़ लगाने गया था तभी यह स्कूटी मैंने इसी साल जनवरी में दिल्ली से चोरी की थी। मेरे बहनोई  फरीदपुर में पत्रकार हैं उसने मेरा भी बीवी न्यूज़ का एक आई कार्ड बनवा दिया था इसलिए मैंने स्कूटी पर आगे पत्रकार लिखवा दिया था क्योंकि पत्रकार देखकर चेकिंग में पुलिस नहीं रुकती है। स्कूटी की असली नंबर प्लेट उतार कर दूसरी नंबर प्लेट लगवा दी थी। बालियान ने बताया कि 15 जनवरी 2021 को मंडावली दिल्ली से चोरी हुई इस स्कूटी की मंडावली में FIR भी दर्ज है। युवक के पास से एक फर्जी पहचान पत्र मिला है जिस पर जिला रिपोर्टर लिखा है। गिरफ्तार युवक को अग्रिम कार्रवाई कर जेल भेजा जा रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ