Subscribe Us

दो दिवसीय दौरे पर बलरामपुर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, लिया बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का जायजा

   दिलीप कुमार 

   बलरामपुर। नेपाल बार्डर से सटे व पूर्वी भारत में भारी बरसात के चलते प्रदेश के कई जनपदों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है, राहत कार्यों के चलते कुछ दिनों में निष्चित ही सही हो जायेगी। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में तेजी से लगातार राहत कार्य चल रहे हैं, सरकार द्वारा हर जिले को पर्याप्त संसाधन उपलब्ध कराया जा रहा है । बरसात से पूर्व ही बाढ़ से बचाव को लेकर निर्देश दिए गए थे। उक्त बातें बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लेने दो दिवसीय भ्रमण पर पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद के उतरौला तहसील क्षेत्र में पालापुर बाढ़ राहत केंद्र पर प्रभावितों में राहत सामग्री वितरित करने का निर्देश दीये गये ।

     मुख्यमंत्री ने कहा कि देवीपाटन मंडल में सबसे ज्यादा बाढ़ से प्रभावित जनपद बलरामपुर हुआ है। जिसमें सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र उतरौला है बताया गया कि जनपद के लगभग 60 ग्राम पंचायतें बाढ़ व जलभराव की चपेट में है। सबसे ज्यादा नुकसान किसान भाईयों की खेती का हुवा है , किसानों को मुआवजा देने के शख्त  निर्देश भी दिये गये ।

 मुख्यमंत्री बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करते हुए जनपद के उतरौला तहसील क्षेत्र के पालापुर बाढ़ राहत केंद्र पर तकरीबन शाम 05:22 बजे पहुंचे थे ।

बाढ़ प्रभावितों की समस्याओं से रूबरू होते हुए राहत सामग्री वितरित की । बाढ़ राहत केंद्र पर पहुंचे । भारी सुरक्षा के बीच मुख्यमंत्री का स्वागत करने भाजपा जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंह, विधायक राम प्रताप वर्मा, सदर विधायक पलटू राम, विधायक शैलेश सिंह ने किया । बाढ़ राहत केंद्र से बाढ़ क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण करते हुए मुख्यमंत्री शक्तिपीठ मंदिर देवीपाटन पहुंचे। यहां पहुंचने के दौरान शक्तिपीठ पर पूजन चल रहा था, जिससे मुख्यमंत्री इस समय देवी माँ  का दर्शन नहीं कर सके । रात्रि विश्राम के उपरांत अगले दिन मां पाटेश्वरी के दर्शन पूजन कर शनिवार को सिद्धार्थनगर जनपद में बाढ़ क्षेत्र का हवाई सर्वेक्षण के लिए निकलें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ