Subscribe Us

6 लाख की लूट का पुलिस ने किया खुलासा, मालिक का पैसा गबन करने के लिए मुनीम ने रची थी साज़िश

   मुबारक अली 

   शाहजहांपुर।  तिलहर थाना क्षेत्र के राइस मिल के मालिक राजीव गुप्ता के मुनीम अनिल कुमार निवासी तिलहर ने 3 अगस्त को मालिक का 6 लाख का चेक  बैंक कैश कर कर वापस जा रहा था कि उमा टॉकीज वाली गली में मोटरसाइकिल पर तीन अज्ञात व्यक्तियों ने रुपए से भरा थैला छीन लिया।

   संजय कुमार सिंह थाना प्रभारी निरीक्षक के नेतृत्व में उ0 नि0 ललित कुमार, उ0 नि0 ओमप्रकाश पुलिस टीम द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण किया गया व सीसीटीवी फुटेज चेक किए गए जिसमें पुलिस को चोरी की घटना संधिगत लगने पर राइस मिल के मुनीम अनिल कुमार से जब कड़ाई से पूछताछ की तो उसने पुलिस को बताया कि के मालिक का पैसा गबन करने के उद्देश्य उसने यह  कहानी लूट की बनाई उसकी निशानदेही पर पुलिस ने पूरे ₹6 लाख बरामद किए।

   क्षेत्राधिकारी तिलहर परमानंद पांडे ने बताया कि 3 अगस्त को राजीव गुप्ता राइस मिल के मुनीम अनिल कुमार के साथ दोपहर लगभग 1:30 बजे जब बैंक से मालिक के 6 लाख रुपये बाइक से लेकर आ रहा था तब उसके साथ तीन अज्ञात बाइक सवार युवकों ने 6 लाख का थैला उससे लूट कर फरार हो गए पुलिस ने जब सीसीटीवी चेक किए तो उसमें मामला संधि गत लगा और अनिल कुमार से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि ₹6 लाख रुपये को स्वयं एक दुकान पर रखा बताया गया जिसके बाद पुलिस टीम द्वारा अनिल कुमार को ले जाकर इब्राहिम निवासी मोहल्ला मौजमपुर की किराने की दुकान पर लेकर पहुंची तो पैसे के थैले के बारे में पूछताछ की तो बताया कि जो व्यक्ति आपके साथ आया है और जिसने यह थैला निकाल कर दिया है इनका नाम अनिल कुमार पुत्र हरद्वारी लाल निवासी ग्राम नगरिया है या अक्सर मेरी दुकान पर सामान लेने आता है आज भी दोपहर मेरी दुकान पर मोटरसाइकिल से सामान लेने आया था इसके हाथ में एक सफेद थैला था तथा अनिल कुमार ने मेरी दुकान से किराने का सामान खरीदा और अपने साथ लाए सफेद थैले के ऊपर रखकर बांध कर दिया था और मेरी दुकान पर ही या थैला रखकर या कहकर चला गया कि वह किसी काम से बैंक जा रहा है और वापस आते समय उस थैले को ले जाएगा इस प्रकार अनिल कुमार ही अपने मालिक का धन गबन कर लेने के उद्देश्य अपने द्वारा किए गए अपराध के साक्ष्य छुपाने के लिए अपने साथ लूट की कहानी रची एवं लूट की झूठी रिपोर्ट दर्ज कराई पुलिस ने  500 और 100 के नोटों की गड्डियां कुल 6 लाख बरामद किए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ