Subscribe Us

कोरोना काल मे निजी शिक्षण संस्था बन्द होने से शिक्षकों की स्थित बहुत ही खराब : चौधरी अदनान

   सगीर अमान उल्लाह

   बाराबंकी। कोरोना काल मे निजी शिक्षण संस्था बन्द होने से  शिक्षकों की स्थित खराब हो गई है महज पांच हजार रुपये में नौकरी करने वाले शिक्षक दो वर्षों से बन्द चल रहे स्कूलों के चलते घरों में बैठे है डिग्रीयां लेकर युग निर्माण का सपना रखने वाले निजी शिक्षण संस्थओं के शिक्षक भुखमरी की कगार पर है और सरकार इस ओर ध्यान नही दे रही , उक्त बात चौधरी अदनान ने कही उन्होंने आगे कहा गरीबो मजलूमो के हक को अमीरों के हाथ बेंचने वाली यह सरकार केवल अच्छे होने का नाटक करती है एक भी योजनाओं में निजी शिक्षण संस्थाओं के शिक्षकों के बारे में कोई विचार नही किया परिणाम स्वरूप प्राइवेट पढ़ा कर अपना जीवन यापन करने वाले अध्यापक आर्थिक तंगी के चलते त्राहि त्राहि कर रहा है सरकार के कान में जूं नही रेंगती बताते चले कि  कद्दावर युवा नेता चौधरी अदनान ने विधानसभा क्षेत्र कुर्सी की नगर पंचायत फतेहपुर में बाबा मैरेज लान में समाजवादी शिक्षक सभा बाराबंकी द्वारा कार्यकारणी विस्तार कार्यक्रम का आयोजन किया गया साथ ही मुख्य अतिथि चौधरी अदनान ने  मनोनयन पत्र भी वितरण किया गया।

  इस दौरान श्री चौधरी ने कहा शिक्षक आज भी युग का निर्माण करते है बिना भेदभाव किये अपने शिष्य को जौहरी की तराशता है और एक मंजिल देता है सही मायनों में हम यह भी कह सकते है शिक्षक भारत का भविष्य तैयार करता है संबोधित करते हुए उन्होंने आगे कहा शिक्षक समाज के हर वर्ग को एक धागे में पिरो कर चलता है और समाज का विकास बिना शिक्षक के संभव नहीं है यही एक ऐसी पगडंडी है जिसको पकड़ कर हम कठिन से कठिन रास्ते को आसानी से तय करते हुए मंजिल को पा सकते है शिक्षा मित्रों के साथ भाजपा ने धोखा किया है सपा सरकार में ही शिक्षा मित्र शिक्षक बन पाए थे अखिलेश यादव ने कह भी दिया है कि हम यूपी में आएंगे तो शिक्षा मित्रों को सहायक अध्यापक बनायेगे।

   कार्यक्रम में मुख्य रूप से कुर्सी विधानसभा प्रभारी मो सबाह जिला उपाध्यक्ष, अमित यादव जिला अध्यक्ष , मनीष वर्मा विधानसभा अध्यक्ष, रवि शंकर वर्मा प्रभारी, अनस सलमानी, मंसूर खान, अबूजर सनम अंसारी, इम्तियाज मालिक, कलीम अहमद छेत्र पंचायत सदस्य एवं शिक्षक सभा के पदाधिकारी मौजूद रहे ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ