Subscribe Us

मिर्ज़ापुर का विकास हमारी प्राथमिकता : विधायक रत्नाकर मिश्र

   महेंद्र पांडे

   मिर्जापुर। मिर्ज़ापुर नगर के लिए गौरवशाली विकास की बड़ी लकीर खींचते हुए विंध्य कॉरीडोर योजना जो 500 सौ करोड़ के भारी भरकम धनराशि से उत्तर भारत के  प्रसिद्ध शक्तिपीठ विंध्य धाम के विकास के लिए प्रतिबद्धता से मूर्ति रुप दिया है! विंध्याचल धाम के प्रति पूर्व की सरकारें और जनप्रतिनिधियों ने उपेक्षित भाव से विंध्याचल को देखा, नगर ही नहीं संपूर्ण मिर्जापुर के विकास के प्रति नगर विधायक द्वारा एक बड़ी लकीर खींची गई, मिर्जापुर में पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं इसी को राष्ट्रीय पटल पर पर्यटन मंच पर लाने का प्रयास किया है विंध्याचल ही नहीं, संपूर्ण मिर्जापुर में पर्यटन के माध्यम से रोजगार का सृजन संभव होता दिख रहा है! अमृत योजना के तहत विंध्याचल और मिर्जापुर नगर में सीवर लाइन बिछाने का काम तेजी से हो रहा है 75% कार्य पूर्ण हो चुका है! विंध्याचल से मिर्जापुर को जोड़ने वाला प्रमुख मार्ग सीवर लाइन के कारण क्षतिग्रस्त है, सीवर का काम होते ही अच्छी सड़को का निर्माण होना सुनिश्चित है। पीडब्लूडी को मार्ग निर्माण के लिए धन उपलब्ध करा दिया गया है। मिर्जापुर नगर और विंध्यवासिनी धाम के निवासी और देवी भक्त को फिल्टर पेयजल उपलब्ध होगा, इस के लिए विंध्याचल में प्लांट का काम अंतिम छोर पर है। विंध्य पर्वत पर रोपवे स्थानीय और देवी भक्तों के लिए आकर्षण का केंद्र बना है, यह प्रदेश का पहला रोपवे है। 128 करोड़ की राशि शासन ने विंध्य कॉरीडोर योजना के लिए जारी कर दिया है, परिक्रमा पथ, और चार मार्गो का सुंदरी करण, अति शीघ्र प्रारंभ हो जाएगा! यही पूर्व के जनप्रतिनिधियों और वर्तमान जनप्रतिनिधि रत्नाकर मिश्र में  अंतर है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ