Subscribe Us

स्मार्ट क्लास से बच्चो के साथ साथ शिक्षक भी होगे स्मार्ट

  ख्वाजा खान

  सोनभद्र। विकास खण्ड बभनी के 25 विद्यालयो मे लैकों कम्पनी ने स्मार्ट क्लास के लिए प्रोजेक्टर व अन्य उपकरण विद्यालयो को उपलब्ध कराया है विद्यालयो मे लगे स्मार्ट क्लास की उपयोगिता व भौतिक स्थिति को जानने गुरूवार को प्रान्त सह सगठन मत्री आनन्द जी असनहर विद्यालय पहुंचे और स्मार्ट क्लाश का हाल जाना।इस अवसर पर उन्होने स्मार्ट क्लास चला कर उसकी उपयोगिता का आकलन किया। गुरूवार को विकास खण्ड बभनी के 25 विद्यालयो मे लगे स्मार्ट क्लास की सच्चाई समझने के उद्देश्य से प्रान्त सह सगठन मत्री असनहर प्रथम  विद्यालय पहुंचे जानकारी पर खण्ड शिक्षाधिकारी संजय कुमार भी वहा पहूँचे । इसके बाद विद्यालय मे लगे स्मार्ट क्लास की उपयोगिता के बारे मे शिक्षको ने बताया इस दौरान शिक्षक अंकित व वृन्दा प्रसाद ने ने बताया कि स्मार्ट क्लास से बच्चो को कला, गणित, हिन्दी, अग्रेजी सहित अन्य सभी विषयो की पढाई के लिए उपयोगी है बच्चे स्मार्ट क्लास मे रूचि भी लेगे।इसमे लगे स्कैनर से बच्चो को पढाने और सिखाने मे भी मदद मिलेगा। 

  चित्रकारी के लिए भी स्मार्ट बोर्ड बड़ा उपयोगी है।शिक्षको ने आम और फूल बनाकर बगैर रंग के ही चित्रकारी भी करेके दिखाया।इस दौरान प्रान्त सह सगठन मत्री ने कहा कि इससे बच्चो के साथ शिक्षक भी स्मार्ट बनेगे।इस दौरान सेवा समर्पण संस्थान कारीडाड के केन्द्र प्रमुख गोपाल जी ,संरक्षक विरेंद्र नारायण शुक्ल प्राथमिक शिक्षक संघ ब्लाक अध्यक्ष आरिफ अहमद,शिक्षामित्र संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष अफजल अहमद,कमलेश कुमार, मनीष, मसूद अहमद, सी एस पान्डेय सहित अन्य शिक्षक मौजूद रहे। विकास खण्ड बभनी के 25 विद्यालयो मे स्मार्ट क्लास की व्यवस्था दी गयी। फिलहाल अभी शिक्षक इसका उपयोग सीखने मे कर रहे विद्यालय खुलते ही बच्चो को स्मार्ट क्लास का लाभ मिलेगा।अन्य विद्यालयो मे दुसरे चरण मे स्मार्ट क्लास सिस्टम लगाया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ