Subscribe Us

लोक निर्माण विभाग मिर्जापुर में टेंडरों में धांधली होने पर मुख्यमंत्री को दिया ज्ञापन

   तौसीफ अहमद

  मिर्जापुर। लोक निर्माण विभाग में टेंडरों में धांधली होने पर जय सिंह नामक ठेकेदार ने मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश को शिकायती पत्र देकर कहा कि हम सब प्रार्थीगण लोक निर्माण विभाग में ठेकेदारी करते है। जनपद मीरजापुर के प्रान्तीय खण्ड एवम निर्माण खण्ड 2 लोक निर्माण विभाग मिर्जापुर में कई कार्य स्वीकृत हुए लेकिन 10 से 15 कार्यों का ही टेण्डर समाचार पत्र में प्रकाशित किया गया बाकि सभी टेण्डर जिनकी मूल लागत 70 लाख है तो उसे 35 लाख का टेण्डर लगाया गया है एवं जिनकी लागत 20 लाख से 35 लाख तक है उसमे डामर की लागत को घटाकर 10 लाख के अन्दर कर बिना नोटिस बोर्ड तथा समाचार पत्र में प्रकाशित कराये चोरी से बेच दिया गया है । जब सभी कार्य चोरी से ही बेचे जाने है तो 8 से 10 टेण्डर ही क्यो दिखाये के लिये लगाये जाते है । इनको भी चोरी से ही बेच दिये जाये । सभी मागों के टेण्डर में डामर का दाम घटा दिया जाता है जब कि प्रमुख अभियन्ता लोक निर्माण विभाग लखनऊ का सर्कुलर न 0 354 कैम्प प्र 0 अ 0 विकास / 03 ( मु०-1 ) / 2018 दिनांक 01.10 2018 द्वारा समस्त लोक निर्माण विभाग को निर्देश जारी किये गये है कि समस्त कार्य की निविदा पूर्ण लागत पर लगायी जाये न कि डामर घटा के । इन खण्डो द्वारा ऐसा करके राजस्व को हानी पहुचायी है तथा यहाँ यह भी कहना है कि जब आनलाईन टेण्डर होता है तो । टेण्डर पर कम से कम 10 लोग टेण्डर डालते है जबकि इनके यहाँ के 10 लाख के जो भी टेण्डर डाले जाते है वह सभी टेण्डर मात्र व्यक्ति ही खरीदते है । अधिशासी अभियन्ता से बार - बार कहे जाने पर उनके द्वारा यह कहा जाता है कि 10 लाख तक बिना निविदा आमंत्रित करे टेण्डर बेचा जाना उनके पावर में है । इन्ही के विभाग के अपर मुख्य सचिव उ 0 प्र 0 शासन लोक निर्माण अनुभाग -7 के शासनादेश सं 0 350 / 23-7-17-176 ( सा ) / 06 टी 0 सी 0 दिनांक 31/03/2017 एवं शासनादेश दिनांक 08 जून 2017 द्वारा दिशा निर्देश जारी किया गया है कि समस्त कार्य ई - टेण्डर के माध्यम से आमंत्रित किये जायेगें तथा यदि आन लाईन नहीं है तो निविदा खण्ड मे , वृत्तीय कार्यालय में एवं जिलाधिकारी कार्यालय में बेचे जायेगें । जबकि इनके द्वारा मात्र जुगाड़ से तीन ठेकेदार को ही अपने कार्यालय से चोरी से टेण्डर बेचे गये जिसकी सूचना किसी अन्य ठेकेदार को नहीं की गयी । हम ठेकेदार लोगो का भवन में भी रजिस्ट्रेशन है किन्तु आज तक कोई भी भवन कार्य की निविदा बेची ही नही गयी । इसी प्रकार साईनेज का टेण्डर प्रमुख अभियन्ता के सर्कुलर 225 कैम्प / मु 0 अभि 0 ( मु०-1 ) / 2018 दिनांक 25/07/2018 द्वारा लोक निर्माण विभाग के समस्त खण्डो को निर्देशित किया गया है कि रोड साईनज कार्य की एक ही निविदा आमंत्रित कर कार्य कराया जाये । यहाँ इस जनपद में वही धंधा फिर से चालू हो गया कि जो ठेकेदार को 10 लाख के नीचे निविदा चोरी से बेच कर कार्य कराया जा रहा है और तो और हद तो ये हो गयी कि चुनार जमुई अहरौरा मार्ग एंव कोटवा सिरसी मार्ग पर चोरी से बाण्ड बनाकर हुए कार्य के भुगतान के बाद फिर से उसी कार्य का दूसरा भुगतान फर्जी कर दिया गया है एवं 10 लाख का जो भी चोरी से अनुबन्ध गठित किये जाते है उन पर फर्जी एक्स्ट्रा आईटम बनाकर 39 लाख तक का भुगतान लिया जाता अतः श्रीमान जी से विनम्र एवं सादर अनुरोध है कि कृपया इस जनपद के टेण्डर की जांच कराकर समबन्धित अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही करने की कृपा करे।

 साथ ही साथ आपसे विनम्र अनुरोध है कि कृपया इन समस्त प्रकरणो पर पूर्व में भी कई ठेकेदारो द्वारा मुख्य अभियन्ता मीरजापुर क्षेत्र एवं अधीक्षण अभियन्ता मीरजापुर वृत्त , लो नि 0 वि 0 मीरजापुर को भी सूचित किया गया था किन्तु इनके द्वारा भी अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गयी तथा लेटर को दबा दिया गया । कृपया इनके विरूद्ध भी कोई कार्यवाही न किये जाने हेतु जांच कमेटी गठित करने की कृपा करें जिससे आप की जो छवि इन अधिकारी एवं कर्मचारियो ने खराब की गयी है वह आपके इस कार्यवाही से आपकी दृढ़ इच्छा शक्ति एवं कड़क सी ० एम ० की छवि है वह मिसाल बन सके।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ