Subscribe Us

बकरीद पर स्लाटर हाउस खोलने के लिए अल्पसंख्यक कांग्रेस करेगी आंदोलन

 


सत्य स्वरूप संवाददाता

प्रयागराज। अल्पसंख्यक कांग्रेस प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज़ आलम ने कल देर शाम अटाला इलाके में क़ुरैशी समाज के लोगों से मुलाक़ात कर उनके मुद्दों पर संघर्ष करने का वादा किया।

मीडिया को संबोधित करते हुए शाहनवाज़ आलम ने कहा कि योगी सरकार में सांप्रदायिक द्वेष के कारण क़ुरैशी समाज के लोगों को फ़र्ज़ी मुकदमों में फंसाया जा रहा है। वहीं स्लाटर हाउस बन्द करा कर इस समाज के लोगों की आजीविका पर भी हमला किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इन मुद्दों पर कांग्रेस सड़क पर संघर्ष करेगी।

शाहनवाज़ आलम ने कहा कि पिछली सपा सरकार में कानपुर से ले कर हापुड़ तक टेनेरियों को बन्द कर के क़ुरैशी समाज के पेट पर लात मारा गया था। समाजवादी पार्टी क़ुरैशी बिरादरी के वोट और नोट से खड़ी हुई लेकिन क़ुरैशी समाज को पिछड़ा वर्ग में आने के बावजूद सपा ने कभी भी नौकरियों में भर्ती नहीं दी. उन्होंने कहा कि क़ुरैशी समाज 40 विधान सभा सीटों को प्रभावित करता है लेकिन सपा ने उनमें नेता नहीं पैदा होने दिया जबकि क़ुरैशी समाज अखिलेश यादव के सजातीय बिरादरी से ज़्यादा संख्या में है।

शाहनवाज़ आलम ने कहा कि अल्पसंख्यक कांग्रेस ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी जी के निर्देश पर 24 जून को हर ज़िले से राज्यपाल को ज्ञापन भेज कर क़ुरैशी समाज के मुद्दों को उठाया था। उन्होंने कहा कि बकरीद में स्लाटर हाउस खोलने और छोटे दुकानदारों को बूचर खाना खोलने की माँग को ले कर अल्पसंख्यक कांग्रेस आंदोलन करेगी।

प्रेस कांग्रेस के दौरान अल्पसंख्यक कांग्रेस शहर अध्यक्ष अरशद अली, नूरुल क़ुरैशी, इरफान उल हक़, जावेद उर्फी, तालिब अहमद, नाज़ खान, हाजी सरताज, अंजुम नाज़, मुस्तकीम क़ुरैशी, अरमान क़ुरैशी आदि मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ