Subscribe Us

जहरीले सांप नें मासूम को डसा इलाज के आभाव में हो गयी मौत

असदुल्लाह सिद्दीकी। सत्य स्वरूप

सिद्धार्थनगर। ज़िले के जिला अस्पताल में लापरवाही की चलते एक मासूम की जान चली गई जिसके बाद परिवार के लोगों ने जिला अस्पताल के एमरजेंसी वार्ड में बवाल करना शुरू कर दिया । पूरा मामला सदर थाना। क्षेत्र के धौरीकुइयाँ गाँव का है जहाँ पर आज सुबह करीब 4 बजे एक सात वर्षीय बच्ची को जहरीले सांप ने काट लिया जिसके बाद परिजन किसी तरह से मासूम बच्ची को ज़िला अस्पताल लेकर पहुँचे लेकिन इलाज़ के आभाव में उसकी मौत हो जाती है ऐसा मृतक बच्ची के परिजनो का आरोप है साथ ही साथ परिजनों ने आरोप यह भी लगाया है कि जब वह अस्पताल पहुँचे तो डॉक्टर ने इलाज़ करने से मना कर दिया और गोरखपुर के लिए रेफर भी कर दिया काफी मिन्नतों के बाद डॉक्टर ने इलाज़ तो शुरू किया और बच्ची के पिता को बहार दवा लेने भेज दिया पिता जब वापस दवा लेकर आया तो डॉक्टर ने बच्ची को ले जाने को कहा और मृत घोषित कर दिया जिसके बाद अस्पताल में परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया और इन्साफ की मांग करने लगे सुचना पा कर मौके पर सदर थाने की पुलिस भी पहुँच गई पुलिस ने मामला को किसी तरह शांत कराई वही सीएमएस डॉ नीना वर्मा का कहना है कि इमरजेंसी वार्ड के डॉक्टर ने उन्हें मामले की जानकारी दी है और उस बच्ची को आठ एसवी के इंजेक्शन लगाये गए लेकिन बच्ची की हालत में सुधार नही हुआ जिसके बाद उसे गोरखपुर रेफर किया गया लेकिन परिजन गोरखपुर नही ले गए और उसका इलाज़ जारी रहा लेकिन उसकी साढ़े सात बजे के करीब मौत हो गई जिसके बाद उसके परिजनों ने बवाल करना शुरू कर दिया। सीएमएस के कहने पर पुलिस ने मामले को शांत कराया है और डॉक्टरों की लापरवाही की जांच करने के लिए बच्ची का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ