Subscribe Us

एक्सप्रेस वे पर हुए हादसे में घायल मरीजों से मिलकर कुलपति प्रो0 रमाकान्त यादव ने जाना हालचाल

  सत्य स्वरूप न्यूज़ नेटवर्क

   सैफई। आगरा- लखनऊ एक्सप्रेस वे पर बिहार के मुजफ्फरनगर से दिल्ली जा रही बस का करहल के निकट एक्सप्रेस वे के चैनल नं0 93 के पास हुए दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल 35 मरीजों को चिकित्सा विश्वविद्यालय सैफई के इमर्जेंसी ट्रामा एवं बर्न सेन्टर में इलाज किया जा रहा है जिसमें कुछ मरीजों की हालत गंभीर है। इस दुर्घटना में घायल इन सभी मरीजों का इलाज विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 (डा0) रमाकान्त यादव के निर्देशन में चिकित्सकों एवं पैरामेडिकल स्टाफ की क्यूआरटी टीम द्वारा तुरन्त शुरू कर दिया गया। विश्वविद्यायल के कुलपति प्रो0 (डा0) रमाकान्त यादव ने गंभीर रूप से घायल मरीजों से मिलकर उनके इलाज की पूरी जानकारी ली तथा इस दुर्घटना में घायल मरीजों के इलाज में लगे चिकित्सकों तथा पैरामेडिकल स्टाफ से बात की। इस दौरान उनके साथ संयोजक कोविड-19 एवं नॉन कोविड अस्पताल डा0 एसपी सिंह, चिकित्सा अधीक्षक डा0 आदेश कुमार, इमर्जेंसी होल्डिंग एरिया इंचार्ज डा0 अमित चौधरी, सहायक चिकित्सा अधीक्षक डा0 राहुल मिश्रा आदि उपस्थित रहे।

    कुलपति प्रो0 (डा0) रमाकान्त यादव ने बताया कि दुर्घटना में घायल मरीजों का इलाज पूरी तत्परता से किया जा रहा है। इसमें इमर्जेंसी में तैनात क्यूआरटी टीम जो कि किसी भी दुर्घटना में आये मरीजों को तत्काल चिकित्सा उपलब्ध कराती है द्वारा घायल मरीजों के आते ही आकस्मिक चिकित्सा शुरू कर दी गयी। उन्होंने बताया कि दुर्घटना में घायल कुल 35 मरीज विश्वविद्यालय के इमर्जेसी वार्ड में भर्ती किये गये हैं। कुलपति प्रो0 (डा0) रमाकान्त यादव ने दुर्घटना में घायल मरीजों के इलाज में तत्परता से लगे चिकित्सकों, सीनियर एवं जूनियर रेजिडेंन्ट एवं सम्बन्धित पैरामेडिकल स्टाफ की सराहना की।  

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ