Subscribe Us

पुश्तैनी जमीन विवाद में युवक की हत्या, मृतक के पिता ने दर्ज कराया मामला


पुलिस को दिए गए आवेदन में दस लोगों को बनाया आरोपी, जांच में जुटी पुलिस

रिपोर्ट राकेश पाण्डेय

सीतापुर।  जनपद के रामकोट थाना क्षेत्र के शाहपुर गांव में जमीन विवाद में शुक्रवार की रात एक युवक की हत्या कर दी गई। शनिवार सुबह युवक का शव बरामद किया गया। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। वहीं मौके पर पहुंचे मृतक के परिजनों ने गांव के ही  पांच नामजद व 4-5 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई है। मृतक के परिजनों की ओर से आवेदन मिलने के बाद पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है।

       घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे रामकोट थाने के प्रभारी निरीक्षक संजीत कुमार सोनकर ने बताया कि मृतक की पहचान 18 वर्षीय अतेंद्र कुमार पुत्र जियालाल के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि परिजनों के अनुसार अतेंद्र शुक्रवार को घर से खेत की तरफ टहलने के लिए निकला था। देर रात तक घर नहीं लौटा तो परिजनों ने खोजबीन की लेकिन अतेंद्र का कोई पता नहीं चल पाया। उन्होंने बताया कि शनिवार सुबह अतेंद्र के खेत में ही उसकी की लाश दिखी। इसके बाद घटना की सूचना पुलिस को दी गई। इस संबंध में मृतक के परिजनों की ओर से आवेदन दिया है। इस सबंध में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

     पुलिस को दिए गए आवेदन में मृतक के 60 वर्षीय पिता ने बताया है, कि अतेंद्र उनका सबसे छोटा बेटा था। शुक्रवार शाम घर नहीं लौटा तो हमने खोजबीन शुरू की लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं चला। पिता ने बताया कि हत्या का कारण पूर्व से चला आ रहा पुश्तैनी जमीन विवाद है। पिता ने लोटन, गोविंद, मनीष, गोकरन, कल्लू, व 4-5 अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कराया है। सभी आरोपी गांव के ही रहने वाले हैं। मृतक के पिता ने कहा कि सभी आरोपियों ने मिलकर उनके छोटे बेटे अतेंद्र की हत्या की है।

     युवक के पिता के अनुसार बुधवार को विपक्षी लोगों से पुश्तैनी जमीन को लेकर विवाद हुआ था। जिसमें विपक्षियों ने जान से मारने की धमकी भी दी थी। इसके बाद आज सुबह हमारे छोटे   बेटे की लाश मिली है।   

     मौके पर पहुंचे प्रभारी निरीक्षक संजीत कुमार सोनकर का कहना है कि पिता की तहरीर के अनुसार पांच लोग नामजद व चार-पांच अज्ञात के खिलाफ 147, 302, 201, 506 में मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ