Subscribe Us

पुलिस व खनन अधिकारी की मिलीभगत से पलिया में चल रहा अवैध खनन का काला धंधा

   ब्यूरो अंकुल गिरी

   पलिया कलां खीरी। पलिया तहसील क्षेत्र में रेत के अवैध खनन का कारोबार एक बार फिर सुर्खियों में है। पुलिस व प्रशासन के साथ मिलीभगत से चल रहा यह धंधा उफान पर है। बस फर्क इतना है कि अब रात के  अंधेरे की बजाय दिन के उजाले में अवैध खनन किया जा रहा है। पलिया की सारदा नदी के किलोमीटर क्षेत्र में हो रहे अवैध खनन का बड़ा खुलासा रविवार को नगर की मुख्य सड़कों से होते हुए सीओ आफिस के सामने से  बड़ी संख्या में डंपर, ट्रैक्टर ट्राली अवैध खनन में लगे हैं। इस धंधे में सत्ता के करीबी व स्थानीय दबंग लोग जुड़े हैं और गांव के लोगों को मुंह न खोलने की धमकी दे रहे हैं। गांव वालों के मुताबिक खनन माफिया रास्ता बदलकर डंपर निकालते हैं।

सारदा में कई खनन माफिया सक्रिय

यमुना नदी में बालू का अवैध खनन करने के लिए एक नहीं, बल्कि कई खनन माफिया सक्रिय हैं। पलिया , परसपुर, संपूर्णानगर,  खजूरिया, बम नगर, चंदन चौकी,  आदि कई गांवों में अलग-अलग ग्रूप के खनन माफिया कारोबार में लिप्त हैं। हर गांव में अलग-अलग माफिया का राज है। एक-दूसरे के गांव में कोई माफिया दखल नहीं देता, जिसका जहां कारोबार चल रहा है, वह अवैध खनन करता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ