Subscribe Us

सैफई में मुलायम सिंह यादव की नातिन का विवाह समारोह संपन्न

   सत्य स्वरूप संवाददाता

   इटावा। सैफई में आज दिन भर जश्न का माहौल रहा मौका था सपा संरक्षक  मुलायम सिंह यादव की नातिन और सांसद तेज प्रताप यादव की बहन दीपाली यादव के शादी समारोह का। शादी में तमाम राजनीतिक दलों के नेता जनप्रतिनिधियों ने भाग लिया और वर-वधू को आशीर्वाद दिया।

 शादी में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव, सांसद रामगोपाल यादव, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव, पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष प्रेमलता यादव, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अंशुल यादव, सपा के राष्ट्रीय सचिव अनुराग यादव दीपू, पूर्व सांसद डिंपल यादव, पीसीएफ सभापति आदित्य यादव, प्रतीक यादव, अपर्णा यादव, अभिलाषा यादव, आर्यन यादव, पूर्व राज्य मंत्री आलोक शाक्य, विधायक राजू यादव, विधायक बृजेश कठेरिया, विधायक सोबरन सिंह यादव,पूर्व ब्लाक प्रमुख डॉ अरविंद यादव, पूर्व ब्लाक प्रमुख बृजेश चंद यादव, ब्लाक प्रमुख जसवंतनगर अनुज मोंटी यादव, एमएलसी अरविंद प्रताप यादव, टीपी मामा मैनपुरी, राजवीर सिंह यादव ठेकेदार, भारत सिंह यादव जिला सचिव,  दफेदार यादव, राजू यादव, विजय सिंह शाक्य, सोनू यादव, अंकित यादव वीटू, राजवीर बाबा, ने वर- वधू को आशीर्वाद दिया। 

 मंडप पर आयोजित पैर पुजाई रश्म की शुरुआत सबसे पहले सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव और डिंपल यादव ने की उन्होंने वर वधु को आशीर्वाद दिया। इसके बाद धर्मेंद्र यादव व उनकी पत्नी ने,फिर अनुराग यादव दीपू व उनकी पत्नी अभिलाषा यादव ने,  प्रतीक यादव व उनकी पत्नी अपर्णा यादव ने, तेज प्रताप यादव व उनकी पत्नी राज लक्ष्मी यादव ने पैर पूजे।

 वही बारात की अगवानी व स्वागत  के लिए पूरा मुलायम सिंह यादव परिवार मौजूद रहा। दीपाली यादव की शादी फिरोजाबाद जिले के अश्विनी यादव के साथ संपन्न हुई अश्वनी यादव चंडीगढ़ सेंट्रल यूनिवर्सिटी में एसोसिएट प्रोफेसर हैं । अपनी नातिन को आशीर्वाद देने के लिए सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव विशेष विमान द्वारा सैफई हवाई पट्टी पर पहुंचे थे और शादी संपन्न होने के बाद लगभग 2 बजे वह हवाई पट्टी से लखनऊ चले गए बाद में अखिलेश यादव ने मौजूद रहकर शादी की सभी रस्में संपन्न कराई।

 गांव में घूमी बारात दूल्हे को देखने उमड़े लोग लोग

बरात चढ़ाने की रस्म सैफई अमिताभ बच्चन राजकीय इंटर  कॉलेज से शुरू हुई और बारात गांव में घूमती हुई सीधे सैफई कोठी पर पहुंची जहां दूल्हे को बग्गी से उतारकर सभी रस्मों की शुरुआत की गई निकरौसी में  बारातियों ने जमकर डांस किया और जब बारात सैफई कोठी पर आ गयी तो घराती महिलाओं ने भी जमकर नृत्य किया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ