-->
महिला स्पेशल बूथों पर दिखा आधी आबादी का उत्साह पहले दिन 63 प्रतिशत महिलाओं ने लगवाया टीका

महिला स्पेशल बूथों पर दिखा आधी आबादी का उत्साह पहले दिन 63 प्रतिशत महिलाओं ने लगवाया टीका

   रिपोर्ट राकेश पाण्डेय

   सीतापुर। कोरोना से आमजन को बचाने के लिए जिला मुख्यालय पर विभिन्न केन्द्रों सहित जिले की सभी 19 ब्लॉक सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर टीका लगाने का काम नियमित रूप से किया जा रहा है। इनमें से कई केन्द्रों पर विशेष वर्ग और व्यवसाय से जुड़े लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है।

    न्याय विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों और अधिवक्ताओं के अलावा शिक्षक-शिक्षिकाओं, बैंक कर्मियों, मीडिया कर्मियों और 12 साल तक की उम्र वाले बच्चों के अभिभावकों के लिए जिला मुख्यालय पर विशेष टीकाकरण केन्द्र बनाए गए हैं। इन केन्द्रों पर प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग कोरोनारोधी वैक्सीन लगवा भी रहे हैं।

     इसी बीच प्रदेश सरकार के निर्देश पर सेहत महकमे ने जिले में महिलाओं के लिए दो महिला स्पेशल बूथ बनाकर सोमवार से उनका टीकाकरण शुरू कर दिया है। 

     जिला महिला चिकित्सालय और सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मिश्रिख पर बनाए गए महिला स्पेशल बूथों पर पहले दिन आधी आबादी ने उत्साह और उमंग के साथ कोरोना से बचाव का टीका लगवाया। कोरोनारोधी वैक्सीन को लेकर आधी आबादी में न डर दिखा और न ही कोई झिझक, इन बूथों पर टीका लगवाने आईं महिलाओं का कहना है कि कोरोना से खुद को और अपने परिवार को सुरक्षित रखने के लिए यह टीकाकरण बेहद जरूरी है। 

    सोमवार से शुरू हुए दोनों महिला स्पेशल केन्द्रों पर प्रतिदिन 100-100 लोगों को टीके लगाने का लक्ष्य है। पहले दिन इन केन्द्रों पर लक्ष्य के सापेक्ष 63 प्रतिशत से अधिक महिलाओं ने टीका लगवाया। इन विशेष केन्द्रों पर कुल 127 महिलाओं ने कोरोना से बचाव का टीका लगवाया। जिनमें से जिला महिला चिकित्सालय के केन्द्र पर 80 और सीएचसी मिश्रिख के महिला स्पेशल केन्द्र पर 47 महिलाओं ने कोरोनारोधी वैक्सीन लगवाई। 

    मिश्रिख सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के महिला स्पेशल बूथ पर टीका लगवाने आईं तेजस्वनी का कहना है कि महिलाओं के टीकाकरण को लेकर स्पेशल बूथ बनाने का सरकार का निर्णय सराहनीय है। टीकाकरण से ही कोरोना को हराया जा सकता है, इसलिए हर किसी को टीकाकरण कराना चाहिए। नीलू का कहना है कि कोरोना जिस तेजी से फैल रहा है, उसका खात्मा करना जरूरी है। इससे निजात पाने के लिए सभी लोगों को टीका लगवाना होगा। इस टीके से ही हम अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा कर सकते हैं। टीका लगवाने आईं अंशिका का कहना है कि टीकाकरण कराकर और सरकार की गाइडलाइन का पालन करके ही इस महामारी पर हम सब जीत दर्ज कर सकेंगी। टीकाकरण को लेकर लोगों को जागरूक होने की जरूरत है। टीका लगवाने आईं नित्या का कहना है कि टीकाकरण का अनुभव बढ़िया रहा। कोरोना को हराने के लिए सभी को टीका लगाना चाहिए। टीकाकरण संबंधी गाइडलाइन का पालन करके ही कोरोना से मुक्ति मिलेगी।

    मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मधु गैरोला का कहना है, कि टीका लगाने के बाद हल्का बुखार आ सकता है। अगर बुखार है तो पैरासिटामॉल की गोली ले सकते हैं। अन्य कोई परेशानी होती है तो डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं। खाने-पीने का कोई परहेज नहीं है।

0 Response to "महिला स्पेशल बूथों पर दिखा आधी आबादी का उत्साह पहले दिन 63 प्रतिशत महिलाओं ने लगवाया टीका "

एक टिप्पणी भेजें

Ad

ad 2

ad3

ad4