Subscribe Us

"हे गंगा मैया तोहे पियरी चढाईबे" के साथ शुरू हुआ डिज़िटल उत्सव सीज़न 2

लोगों ने घर बैठे बैठे उठाया मनोरजंक कार्यक्रमों का भरपूर आनन्द

सत्य स्वरूप संवाददाता

लखनऊ। कोरोना काल में लोगों को कुछ अलग मनोरंजन देकर उनका ध्यान दुःखद परिस्थितियों से हटाने के लिए सिटीसीएस फैमिली के साथ अंजली फ़िल्म प्रोडक्शन ने फेसबुक पेज पर लाईव माध्यम से देश के विभिन्न प्रान्तों के कलाकारों के साथ मिलकर मनोरंजक प्रस्तुतियों के माध्यम से भरपूर मनोरंजन का आगाज़ किया । इस वर्ष के कार्यक्रम में सहयोगियों के रूप में सिटीसीएस फैमिली, यूथ हॉस्टल्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया की उत्तर प्रदेश राज्य शाखा की तुलसीपुर इकाई, मेक माई ट्यूशन जैसी संस्थाएं भी शामिल हैं।

इस वर्ष का आयोजन ज़ूम के माध्यम से किया जा रहा है, जिसका सीधा प्रसारण अजंली फ़िल्म प्रोडक्शन के फेसबुक पेज पर भी साथ साथ किया जा रहा है। 

रविवार कार्यक्रम का शुभारंभ सुप्रसिद्ध लोक गायिका वंदना मिश्रा के गायन से हुआ। हे गंगा मैया, तोहे पियरी चढाईबे,सैयां से कै दा मिलनवा,कहे तोसे सजना ये तोहरी सजनिया,दो हँसो का जोड़ा बिछुड़ गयो रे सहित सावन पर आधारित गीतों को बिना बैकग्राउंड म्यूजिक के प्रस्तुति दी। 

प्रथम प्रतिभागी लखनऊ से मधुनीत निगम ने शादी के दौरान होने वाले हास्य भावों को गीत के रूप में गाया,मैं कहीं कवि न बन जाऊं, लिखे जो खत तुझे और मुझे इश्क़ है तुझी से के साथ कई गीत हास्य भाव से प्रस्तुत किया । इसके बाद अभिशान्त निगम ने गायन प्रस्तुत किया। धर्मिष्ठा निगम ने गायन और नृत्य पेश किया। हैदरबाद से  रिद्धि और सिद्धि ने नाटक और संगीत मिक्स प्रस्तुति के माध्यम से फिट रहने के लिए फिजिकल एक्सरसाइज करने पर ज़ोर दिया। छत्तीसगढ़ से रामकृष्ण थवाईत ने गीत गाते हुए ऑनलाइन पढाई में नए अविष्कार करने पर ज़ोर दिया। कानपुर से श्रुति सक्सेना एवं भूमि सक्सेना ने हरियाणवी गीतों पर धमाकेदार प्रस्तुति दी।

कार्यक्रम के समस्त प्रतिभागियों को ऑनलाइन ई-सर्टिफिकेट भी दिए गए। कार्यक्रम का सुचारू संचालन कार्यक्रम डायरेक्टर स्नेहाशीष रॉय के साथ साथ कॉर्डिनेटर गरिमा यादव एवं बृजेन्द्र बहादुर मौर्या द्वारा बहुत खूबसूरत अंदाज़ में किया गया। सोमवार का कार्यक्रम शाम चार बजे से लाइव शुरू।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ