Subscribe Us

गांवों में नई सरकार का हुआ गठन, प्रधानों व पंचों को दिलाई गई शपथ

  रिपोर्ट राकेश पाण्डेय

    सीतापुर। उत्तर प्रदेश में गांव की सरकार के गठन की प्रक्रिया मंगलवार से शुरू हो चुकी है। बुधवार को बचे हुये ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत सदस्य शपथ लेंगे। कोरोना के चलते इस बार शपथ ग्रहण समारोह वर्चुअली आयोजित किया गया है। 

   27 मई 2021 को ग्राम प्रधान बैठक के बाद आगे की रणनीति बनाएंगे। शासन ने सख्त हिदायत दी थी कि शपथ ग्रहण के बाद किसी प्रकार का न तो उत्सव होगा न ही विजय जुलूस निकाला जाएगा। प्रदेश में 15 अप्रैल से 29 अप्रैल के बीच चार चरणों में चुनाव संपन्न हुए थे। दो मई को परिणाम आया था। लेकिन कोरोना के चलते शपथ ग्रहण समारोह टल गया था। बीस दिन बाद सोमवार को ग्राम पंचायतों के गठन की अधिसूचना जारी की गई है। मंगलवार को जब प्रधानों ने अपने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली तो उनमें गांव के विकास को लेकर जज्बा नजर आया। 

     नव निर्वाचित प्रधानों ने कहा कि वे बिना किसी भेदभाव के काम करेंगे। रामकोट के नव निर्वाचित ग्राम प्रधान रामनिवास पप्पू वर्मा एवं नव निर्वाचित सदस्य लक्ष्मी, मूलचंद्र, सुनीता, रामरूप, जगन्नाथ, रुकसाना, विजय कुमार, आशीष वर्मा, सुनीता, रिंकी देवी को स्थानीय न्याय पंचायत पर, ग्राम पंचायत जवाहरपुर की प्रधान मुन्नी देवी पत्नी स्वर्गीय सुरेश शुक्ला सेवानिवृत्त लाइनमैन विद्युत विभाग को जिहुरी के पूर्व माध्यमिक विद्यालय में, ग्राम पंचायत जैतीखेड़ा की प्रधान अमरजीत कौर, ग्राम पंचायत सिकटिया की प्रधान क्रांति देवी मौर्या को नोडल अधिकारी बनाए गए ग्राम पंचायत अधिकारी आशीष कुमार यादव ने क्षेत्र की विभिन्न ग्राम पंचायतों में नव निर्वाचित ग्राम प्रधानों व पंचों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।नवनिर्वाचित प्रधानों ने पद एवं गोपनीयता की शपथ ली।

    इसी के साथ अब गांवों की सरकार का कामकाज शुरू हो गया। वादों के निभाने के दिन शुरू हो गए। अब इन प्रधानों के सामने अपने ही वादे पूरे करने की चुनौती है। शपथ ग्रहण के बाद एक बार फिर गांव के लोगों ने अपने नए प्रधान का स्वागत किया ओर शुभकामनाएं दीं। शपथ ग्रहण करने के बाद प्रधानों ने कहा कि विकास के क्षेत्र में पंचायत का नाम रोशन करेंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ